Breaking News:

समोसे से खरीद रहे थे धर्म लेकिन अब समय है योगीराज का..अंजाम को पहुंचे धर्मान्तरण के गुनेहगार

कहने को तो वो वहां पर महिला दिवस के उपलक्ष्य में महिला जागरूक अभियान चलाने गये थे, वो वहां पर झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले गरीब लोगों की मदद करने उनके बच्चों की पढ़ाई लिखाई के लिए मदद करने गये थे लेकिन इस सबके पीछे का जब उनका एजेंडा सामने आया, जब उन्होंने इस लालच के नाम पर उनको धर्म बदलने के लिए कहा तथा इसाईयत अपनाने को कहा तो उन गरीब वस्ती वालों के भी होश उड़ गये. लेकिन शायद वो भूल गये थे कि अब उत्तर परदेश में सत्ता बदल चुकी है और धर्मान्तरण आसान नहीं है.

खबर के मुताबकि, उत्तर प्रदेश के आगरा में एक चर्च के पादरी तथा उनकी सहयोगी ननों ने लालच देकर झुग्गी वालों का धर्मांतरण कराने की कोशिश की. बताया गया है कि आगरा के जगदीशपुरा में आवास विकास कॉलोनी के सेक्टर- 4 की झुग्गी बस्ती में एक चर्च के पादरी व कुछ नन पहुंचे तथा वहन की गंदगी, शिक्षा आदि पर बात की. पादरी ने झुग्गी वासियों को लालच दिया कि कि वो आपकी मददद करना चाहते हैं आपके बच्चों को पढ़ाना चाहते हैं जिसके बाद झुग्गी वासियों को काफी प्रसन्नता हुई लेकिन उसके बाद उन्होंने जो बोला वो आश्चर्यजनक  था. पादरी ने इस माद के बदले उन्हें हिन्दू धर्म छोडकर ईसाई धर्म में आने की बात कही.

धर्मान्तरण की खबर आगरा के कुछ हिन्दू संगठनों को लगी तो वो लोग वहां पहुँच गये तथा धर्मान्तरण रोकने का प्रयास किया. सूचना मिलने पर पुलिस भी घटना स्थल पर पहुँच गयी तथा धर्मान्तरण चर्च के पादरी तथा ननों को गिरफ्तार कर लिया. बस्ती की रहने वाली माया ने पुलिस को बताया कि वे लोग हमारी बस्ती में आए और हमें समोसे खाने के लिए दिए. उन्होंने बच्चों की शिक्षा के लिए धर्म बदलने की बात कही. माया ने बताया कि जैसे ही एक आदमी ने इसका विरोध किया तो फादर ने फौरन ही अपने कपड़े बदल लिए. उसने बताया कि जैसे ही कुछ बच्चों और उन्होंने समोसा खाया, उन्हें चक्कर आने लगे.

मौके पर पहुंचे आरएसएस तथा अन्य हिन्दू संगठन के लोगों का कहना है कि बस्ती वाले स्वयं बोल रहे हैं कि समोसे खाने से चक्कर आये हैं तथा बच्चों की पढ़ाई आदि के लालच में धर्म बदलने की बात कही है. ये सीधा सीधाधर्मान्तरण का मामला है. पुलिस को इस पर तत्काल कार्यवाही करनी चाहिए तथा चर्च को सीज कर देना चाहिए. वहीं पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार फादर तथा ननों से पूंछताछ की जा रही है. दोषी पाई जाने पर उचित कार्यवाही की जायेगी. धर्मान्तरण कराने वाले एक भी आरोपी को छोड़ा नहीं जायेगा.

Share This Post