13 साल की मासूम सहमी बैठी थी और बह रहा था खून.. माँ ने पूंछा किसने किया तो बोली- “अब्बा ने”.. अख्तर नाम है उसका

समझ नहीं आता कि आखिर वह कौन सी सोच है जिसकी बहशी दुराचारी सोच के कारण आज देश की आधी आबादी खुद को भयभीत महसूस करती है? आखिर वह कौन सी सोच है जो अपनी दुराचारी सोच का शिकार मासूम बच्चियों तक को बना लेती है, यहाँ तक कि ये बहशी सोच रिश्ते-नातों तक की मर्यादा को भी तार तार कर देती है. एक बेटी जो खुद को आपने पिता की छाँव में सबसे ज्यादा महफूज करती है क्योंकि वो जानती है तथा ये मानती है कि जब भी उसके ऊपर कोई आंच आयेगी तो उसके पिता उसकी रक्षा करेंगे लेकिन अगर एक पिता ही अपनी बेटी की आबरू लूटने पर उतारू हो जाए तो इसके अधिक शर्मनाक कुछ नहीं हो सकता है.

लेकिन मानवता, इंसानियत, रिश्ते, मान-मर्यादा को शर्मशार करने वाला उत्तर प्रदेश के अमरोहा से सामने आया है जहाँ एक बाप ने अपनी बेटी के साथ बलात्कार करके शर्म को भी शर्मशार कर दिया. एक बेहद शर्मनाक तथा दर्दनाक ये मामला अमरोहा के मंडी धनौरा थाना क्षेत्र का है. मामले की शिकायत मिलते ही पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तर कर लिया है. मां के साथ थाने पहुंची किशोरी ने पुलिस को आपबीती बताई. पीड़िता की मां ने आरोप लगाया कि पति ने आठ दिन पहले पेट के हाजमे के लिए चूर्ण लाकर दिया था जो नशीला था जिसे खाने के बाद वह नशे में हो जाती थी और उसके बाद उसका हैवान पति बेटियों के साथ घिनौनी हरकत करता था. गुरुवार को थाने पहुंची एक महिला ने पुलिस को तहरीर दी. आपको बता दें कि महिला ने पुलिस में ये शिकायत 19 जुलाई को दर्ज कराई थी.

तहरीर के मुताबिक महिला का निकाह 2003 में हुआ था. उसे तीन बेटी और एक बेटा हुआ. शादी के पांच साल बाद कैंसर से शौहर की मौत हो गई. शौहर की मौत के बाद उसकी शादी देवर अख्तर के साथ कर दी गई. दूसरे शौहर से एक बेटा और बेटी हुई. अब बड़ी बेटी 14 वर्ष की हो गई है. उसके शौहर ने नाबालिग बेटी के साथ रेप किया. महिला का आरोप था कि पेट के हाजमे के लिए शौहर ने आठ दिन पूर्व चूर्ण लाकर दिया.जिसका वह रात को इस्तेमाल करती है.चूर्ण का इस्तेमाल करने के बाद वह बेहोश हो जाती थी जिसके बाद शौहर 14 वर्षीय बेटी को हवस का शिकार बनाता था. महिला ने आरोपी पति के खिलाफ धनोरा थाने में एफआईआर दर्ज कराई जिसके बाद पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है.

Share This Post