तुष्टीकरण के शिकार #AllahabadPolice के S I शैलेन्द्र सिंह की रिहाई के लिए हिन्दू महासभा ने दायर की जमानत याचिका… सफलता की ओर #SudarshanNews की मुहिम एक वर्दी वाले को न्याय दिलाने के लिए

यूपी पुलिस के जांबाज दरोगा शैलेन्द्र सिंह जो पिछले 3 सालों से तुष्टीकरण की राजनीती के कारण जेल में बंद हैं, के लिए अखिल भारत हिन्दू महासभा ने कोर्ट केस लड़ने का फैसला किया है. गौरतलब है कि दरोगा शैलेन्द्र सिंह पर कचहरी जाते समय कुछ असामाजिक तत्वों ने हमला किया था जिसका नेतृत्व लगभग आधा दर्जन मामलों में आरोपी नवी अहमद कर रहा था. बताया गया है कि जब दरोगा शैलेन्द्र सिंह पर हमला किया गया तो एक गोली नवी अहमद को भी लगी जिसमें नवी अहमद की मृत्यु हो गयी. नवी अहमद की ह्त्या का दोषी दरोगा शैलेन्द्र सिंह को ठहरा दिया गया तथा उन्हें जेल में डाल दिया गया. पिछले 3 सालों से दरोगा शैलेन्द्र सिंह रायबरेली की जेल में बंद हैं. यद्दपि इस बीच तमाम दुर्दांत अपराधी जमानत पा कर बाहर हो गये लेकिन शैलेन्द्र सिंह का मामला ज्यों का त्यों पड़ा रहा जबकि उसने बार बार चीख चीख कर कहा कि वो निर्दोष हैं..यद्दपि उस समय आज खुद अपराधी घोषित हो चुके लालू प्रसाद यादव तक ने इस मामले में अनावश्यक बयानबाजी कर के मामले को सनसनीखेज बना डाला था . 

अब अखिल भारत हिन्दू महासभा दरोगा शैलेन्द्र सिंह को न्याय दिलाने के लिए मैदान में उतर आयी है. अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जितेन्द्र सिंह विशेन ने कहा कि वह इलाहाबाद उच्च न्यायलय में यूपी पुलिस के जांबाज दरोगा शैलेन्द्र सिंह के लिए जमानत याचिका दायर की है. श्री जीतेन्द्र सिंह विशेन ने कहा कि दरोगा शैलेन्द्र सिंह को झूठे आरोप लगाकर जेल में डाला गया है लेकिन हिन्दू महासभा उन्हें कोर्ट के माध्यम से बाहर लेकर के आयेगी. श्री विशेन जी ने कहा कि हमलावर नवी अहमद की मौत के बाद की रिपोर्ट में भी ये साफ साफ बताया गया है कि दरोगा शैलेन्द्र सिंह की रिवाल्वर से कोई गोली नहीं चली है और किसी भी तरह से ये साबित नहीं हो सका है कि दरोगा शैलेन्द्र सिंह ने गोली चलाई और जिससे नवी अहमद की म्रत्यु हुई. उन्होंने कहा है कि जब रिपोर्ट के आधार पर शैलेन्द्र सिंह ने गोली नहीं चलाई है तब निश्चित ही अपने साथी हमलावर की गोली से नवी अहमद मारा गया लेकिन एक साजिश के तहत शैलेन्द्र सिंह को दोषी ठहरा दिया गया.

कभी एक भी वकील न पाने वाले शैलेन्द्र सिंह के लिए सुदर्शन न्यूज की लगातार खबर और हिन्दू महासभा के सार्थक प्रयासों के चलते अब तब लगभग 100 वकीलों ने वकालतनामा लगाने की घोषणा की है और आशा है कि जमानत सुनवाई के समय लगभग 100 से 200 सक्षम वकील उनके पक्ष में खड़े होंगे . सबसे बड़ी बात ये है कि शैलेन्द्र जी के मुकदमे को लड़ने वाले कोई और नहीं बाबरी मस्जिद श्रीराम जन्मभूमि केस में श्रीराम जन्मभूमि के पक्षकार वकील श्री हरिशंकर जैन जी हैं जिन्होंने किसी भी हाल में शैलेन्द्र सिंह को न्याय दिलाने का संकल्प लिया है . वकीलों ने इस मुहिम को चलाने के लिए सुदर्शन न्यूज का भी आभार प्रकट किया है और आने वाली सुनवाई तारीख पर सकारत्मक परिणाम की आशा की है . 

गौरतलब है कि सुदर्शन चैनल ने सबसे पहले दरोगा शैलेन्द्र सिंह की रिहाई के लिए आवाज उठाई थी तथा आगे भी तब तक आवाज उठाता रहेगा जब तक शैलेन्द्र सिंह बाइज्जत बरी होकर जेल से बाहर नहीं आ जाते तथा वर्दी पहिनकर उनकी तैनाती नहीं हो जाती. सुदर्शन न्यूज़ दरोगा शैलेन्द्र सिंह को वोट बैंक के चक्कर में की गई सरकार की तुष्टिकरण की नीतियों का शिकार मानता है. दरोगा शैलेन्द्र सिंह के परिजनो ने सुदर्शन चैनल तथा श्री जितेन्द्र सिंह विशेन जी का ह्रदय से आभार व्यक्त किया है और बेहद बुरे हालात में अपने साथ खड़े हो रहे वकीलों को भी कोटि कोटि धन्यवाद दिया है . 

Share This Post