पहली बार सुनने में आया है इस संगठन का नाम जिसने पीटा है धर्मान्तरण करवाने वाले साजिशकर्ताओं को

वो सभी धर्मों के सम्मान के दावे करते हैं. लेकिन उसके बाद भी वो लोग किसी न किसी तरीके से हिन्दुओं का धर्मांतरण करने का प्रयास करते रहते हैं. अभी कुछ दिन पहले ही उन्होंने उत्तर प्रदेश के आगरा की एक बस्ती में नशीला समौसा खिलाकर, लालच देकर हिन्दू समुदाय के लोगों को इसाई धर्म में धर्मान्तरित करने का प्रयास किया था लेकिन नमन है उन लोगों को जो गरीब जरूर हैं लेकीन उसके बाद भी वो लालच में नहीं आये तथा धर्मांतरण से साफ़ मना कर दिया जिसके बाद धर्मान्तरण कराने आये चर्च के पादरी तथा नन को पुलिस ने गिरफ्तार किया था.

अब एक ऐसी ही खबर दादरी से सामने आयी है जहाँ दो ईसाई युवक पैसे देकर हिन्दुओं के धर्मान्तरण का प्रयास कर रहे थे लेकिन हिन्दू संगठन तथा समाज की जागरूकता के कारण वो सफल नहीं हुए बल्कि उन्हें पुलिस की गिरफ्त में जाना पड़ा. खबर के मुताबिक, ये लोग ईसाई धर्म प्रचार सामग्री लेकर लेकर शहर की झुग्गियों व गरीब तबके के लोगों के बीच पहुंचे. इन्होंने उन्हें प्रलोभन दिया कि ईसाई धर्म परिवर्तन करने से जहां उनकी शादी होगी वहीं पैसे भी मिलेंगे. आरोप है कि हिंदू धर्म के लोगों का ईसाई धर्म में परिवर्तन करवाने के लिए प्रयास किया जा रहा था.

किसी प्रकार इस बात की सूचना एक हिन्दू संगठन “हिन्दू सभा” के सदस्यों के पास पहुँची. जिसके बाद हिंदू सभा के सदस्य नवीन हिंदू, सुधीर स्वामी व गौरव आदि अपने अन्य साथियों के साथ घटना स्थल पहुंचे तथा स्थानीय लोगों की मदद से उन्हें पकड़ लिया. धर्मान्तरण कराने आये युवकों के पास ईसाई धर्म से संबंधित किताबें, ग्रंथ व धर्म परिवर्तन से संबंधित प्रचार सामग्री बरामद की गयी है. स्थानीय नागरिकों ने धर्मांतरण करवाने वाले दोनों युवकों की जमकर पिटाई की. इस दौरान हिंदू सभा के सदस्यों ने धर्म परिवर्तन करवाने वाले दोनों युवकों का शहर में जुलूस निकाला और सिटी पुलिस के हवाले कर दिया.

दादरी सिटी पुलिस एसएचओ गौरव शर्मा का कहना है कि इस मामले में पुलिस दोनों युवकों से पूछताछ कर रही है तथा पूंछताछ में पता चला है कि दोनों युवक केरल के रहने वाले हैं तथा विशेष योजना के तहत पूरी टीम के साथ धर्मान्तरण कराने के लिए यहाँ आये हुए थे. पुलिस का कहना है कि आरोपियों पर उचित कार्यवाही की जायेगी.

अपने धर्म की रक्षा के लिए अनेकों हिन्दू संगठन कार्य कर रहे हैं लेकिन हिन्दू सभा संगठन का नाम पहली बार सुनने में आया है और जिस तरह से हिन्दू सभा के कार्यकर्ताओं ने धर्मान्तरण के प्रयास को विफल किया वो निश्चित ही वन्दनीय है.

Share This Post

Leave a Reply