सुहागरात में शौहर नहीं बल्कि जेठ आया वो भी चाकू के साथ और 24 घंटे में सत्ता और कोर्ट को ताख पर रख कर दिया 3 तलाक

इसको शासन और सत्ता को सीधी चुनौती न माना जाय तो और क्या कहा जाय ? तीन तलाक पर केंद्र सरकार एक आेर संसद में बिल पेश करने जा रही है तो दूसरी आेर उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से एक महिला को तीन तलाक दिए जाने का मामला सामने आया है। पीड़िता की शिकायत पर नगर कोतवाली पुलिस ने महिला के जेठ, पति और एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मामला बुलंदशहर के कोतवाली देहात क्षेत्र का है। पुलिस में दर्ज शिकायत के अनुसार, पीड़िता का विवाह बुलंदशहर में ही १ दिसंबर को राशिद नाम के युवक से हुआ। परंतु २ दिसंबर की रात उसके साथ जो हुआ वह बेहद दर्दनाक है। 

विदित हो कि पीड़िता २ दिसंबर को सुहाग की सेज पर बैठी थी, तभी कमरे में उसके पति का बड़ा भाई अपने एक दोस्त के साथ घुस आया और चाकू की नोंक पर महिला के साथ गैंगरेप किया। इतना ही नहीं उन्होंने पीड़िता का अश्लील वीडियो भी बना लिया। पीड़िता को उसके जेठ ने धमकी दी कि, अगर वह किसी से इस घटना के बारे में बताएगी तो वह उसका अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर देगा ! पीड़िता ने अगले दिन जब अपने पति को पूरी आप बीती सुनाई तो उलटे पति ने उसके साथ मारपीट की और तीन तलाक कहकर घर से निकाल दिया। 
इतना ही नहीं पीड़िता के पति राशिद ने उससे कहा कि यह शादी उसने अपने भाई के लिए ही की है। राशिद ने बताया कि, उसकी शादी तो पहले से हो रखी है। एसएसपी के आदेश पर पीड़िता के पति, जेठ और एक अन्य व्यक्ति के विरोध में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस घटना ने समाज में फ़ैल रही एक बेहद ही विकृत सोच को उजागर कर के रख दिया है और ऐसी सोच पर तत्काल प्रभावी रोक की जरूरत को भी उजागर किया है . 
Share This Post