पहले तीन तलाक देकर घर से निकाला,,फिर दो महीने बाद अपनी बहसी मानसिकता से अपहरण करके किया दुराचार…जानिए कहाँ घटित हुई ये वारदात

तीन तलाक को सुप्रीम कोर्ट द्वारा अपराध घोषित कर दिया गया है उसके बाद भी देश में तीन तलाक के मामले रुक नहीं रहे हैं तथा कुछ मजहबी मानसकिता से ग्रसित लोग खुलेआम तीन तलाक देकर सुप्रीम कोर्ट को ठेंगा दिखा रहे हैं. हालांकि इसके लिए देश की वो राजनैतिक पार्टियां भी दोषी हैं जिन्होंने राज्यसभा से तीन तलाक को अपराध बताने वाले बिल को पास नहीं होने दिया.

ताजा मामला उत्तर प्रदेश के नॉएडा से सामने आया है जहाँ एक व्यक्ति ने पहले अपनी पत्नी को तीन तलाक दे दिया व इसके बाद उसने धोखे से अपनी उसी पत्नी को अगवा करके उसके साथ मारपीट की तथा बेरहमी के साथ दुराचार किया. पुलिस में दर्ज रिपोर्ट के मुताबिक ग्रेटर नॉएडा के कुलेसरा में रहने वाले जमील ने 2 महीने पहले अपनी पत्नी को तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया. पति द्वारा तलाक दिए जाने के बाद पीडिता नॉएडा के होशियारपुर में छोटी सी किराना की दूकान चलाकर घर का गुजारा करती है.

पीडिता ने पुलिस को बताया है 2 मार्च की रात जमील उसके पास आया तथा समझौते के बहाने उसे नॉएडा सेक्टर ५१ स्थित अपने कमरे पर ले गया जहाँ उसने साथ मारपीट की. जबरदस्ती उसको बियर पिलाई तथा बेरहमी के साथ उसके साथ दुष्कर्म किया. महिला ने आरोप लगाया है कि जमील ने इसकी शिकायत पुलिस से करने पर उसे जान से मारने की धमकी दी है.  पुलिस का कहना है कि शिकायत दर्ज ली गयी है तथा जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा.

आखिर कैसी मानसिकता रही होगी जमील की कि पहले उसने अपनी पत्नी को तीन तलाक देकर घर से निकाल दिया फिर अपनी हवा मिटाने के लिए धोखे से उसको अगवा करके उसके साथ दुराचार किया. जिस तरह से जमील ने अपनी दुराचारी सोच का परिचय दिया है वो एक सभी समाज के लिए बहुत ही घातक है तथा ये व्यक्ति महिलाओं की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बन सकता है. अब ये पुलिस की जिम्मेदारी बनती है कि अपराधी जमील को जल्द गिरफ्तार कर उसे कड़ी सजा दी जाये.

Share This Post

Leave a Reply