Breaking News:

पुलिस चाहती तो लखनऊ के लुटेरे को वहीं ढेर कर कर सकती थी… लेकिन डर था उस मानवाधिकार का जो कर रहा है सहारनपुर में जांच

जब उत्तर प्रदेश की पुलिस ने अपराधियों पर नकेल कसना शुरू किया तथा ताबड़तोड़ एनकाउंटर शुरू किये तो बड़े से बड़ा अपराधी रहम की भीख मांगने लगा तथा कभी अपराध न करने की कसम खाने लगा. उसके बाद वो हुआ जो होता आया है. पुलिस अगर अपराधियों पर कार्यवाही नहीं करती है तो पुलिस पर सवाल और अगर पुलिस अपराधियों को ठिकाने लगाती है तो भी पुलिस पर सवाल. जब अपराधी तख्ती लेकर पुलिस मुख्यालय पहुंचकर रहम की भीख मांग रहे थे तभी मानवाधिकार संगठनों ने पुलिस के एनकाउंटर पर सवाल खड़े किये तथा खुद पुलिस को अपराधी बता दिया. परिणाम पुलिस सहम गई. पुलिस के हाथों मैं बन्दूक देने के बाद बेड़िया डालने का क्या नतीजा होता है इसका परिणाम राजधानी लखनऊ में देखने को मिला जब राजभवन के बाहर सोमवार को बाइक सवार एक बदमाश ने दिनदहाड़े कैश वैन से 6.44 लाख रुपये लूटकर गार्ड की हत्या कर दी.

पुलिस चाहती तो लुटेरों का एनकाउंटर किया जा सकता था लेकिन मानवाधिकार संगठन आड़े आ गए. खबर के मुताबिक़, बदमाश ने कैश वैन के ड्राइवर और कस्टोडियन को भी गोली मारी. एसएसपी कलानिधि नैथानी के मुताबिक एक्सिस बैंक में लगे सीसीटीवी फुटेज में दिखा बदमाश चिह्नित किया जा रहा है. कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. विशेषखंड गोमतीनगर स्थित एसआइपीएल (सिक्योरिटांस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड) कंपनी से सीतापुर निवासी कैश वैन गार्ड इंद्रमोहन, लखनऊ निवासी ड्राइवर रामसेवक व कस्टोडियन उमेश चंद्र ने पौने चार बजे के करीब राजभवन के बाहर कानून मंत्री बृजेश पाठक के घर के पास गाड़ी खड़ी की. कस्टोडियन एक्सिस बैंक में 44 लाख रुपये जमा करने गया था. इसी बीच सफेद रंग की टीवीएस स्पोट्र्स बाइक खड़ी करके एक बदमाश कैश वैन के पास पहुंचा. उसने ड्राइवर के बगल में बैठे गार्ड से पता पूछने के बहाने शीशा डाउन कराया और उसे गोली मार दी.

सीने में दो गोली लगते ही गनर की मौत हो गई. इसी बीच कस्टोडियन रुपये जमाकर करके कैश वैन के पास पहुंचा. तभी ड्राइवर चिल्लाया और 24 लाख रुपये से भरा बैग लेकर भागने लगा. बदमाश ने कैश वैन में पीछे की सीट पर रखे 6.44 लाख रुपये से भरा बैग उठाया और दौड़ाकर पहले कस्टोडियन फिर ड्राइवर को गोली मार दी. ड्राइवर किसी तरह 24 लाख रुपये से भरा बैग लेकर बैंक के अंदर घुस गया. इसके बाद बदमाश बाइक से 6.44 लाख रुपये से भरा बैग लेकर भाग निकला. घटना स्थल पर एक पिस्टल और सात कारतूस के खोखे मिले हैं. मौके पर एक जिंदा कारसूत भी मिला है. बदमाश की बाइक का नंबर UP 32 जीके 7022 ट्रेस हुआ है जो सफेद रंग की अपाचे बाइक है. अफसरों ने बदमाशों को पकड़ने वाले को 50 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है. फिलहाल लुटेरों की गिरफ्तारी के प्रयास में पुलिस टीम लगी हुई है.

Share This Post