कानपुर पुलिस कप्तान के पहले ही बयान से कांप गये अपराधी… – “गोली का जवाब गोली” … और भी बहुत कुछ ..

योगी सरकार के आने के बाद से ही उत्तर प्रदेश पुलिस राज्य में अपराधियों का काल बनी हुई है तथा लगातार एक के बाद एक अपराधियों का एनकाउंटर किया जा रहा है. इसी बीच कानपुर को योगी सरकार ने नया पुलिस अधीक्षक दिया है जिनका नाम है अनंत देव सिंह. अनंत देव सिंह ने अपना पदभार ग्रहण करते ही अपराधियों को लेकर आपने इरादे जाहिर कर दिए हैं तथा एलान कर दिया है कि उनकी पुलिस अपराधियों की गोली का जवाब गोली से ही देगी तथा अपराधियों का सफाया करेगी.  बता दें कि कानपुर में अपराध लगातार बढ़ते जा रहे थे जिसे देखते हुए देखते हुए शासन ने दो दिन पहले एनकाउंटर स्पेशलिस्ट व तेज तर्रार आईपीएस अनंत देव को कानपुर का नया कप्तान बनाया.

गुरुवार देर रात चार्ज संभालते ही नये कप्तान ने मीडिया से रूबरू होते हुए अपने इरादे जगजाहिर करते हुए कहा कि पुलिस अब गोली का जवाब गोली से देगी. उन्होंने काहा कि मैं पहले कानपुर में रह चुका हूं और यहां की एक-एक गतिविधियों से वाकिफ हूं. ऐसे में अपराधी या तो स्वेच्छा से जेल की शरण ले लें या जनपद छोड़कर भाग जायें. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने साफ किया है कि अपराधियो में पुलिस का ख़ौफ़ बनाया जायेगा, जिससे कि अपराध को रोका जा सके और अपराधियों पर नकेल कसी जा सके. 100 से ज्यादा एनकाउंटर कर चुके एसएसपी अनंत देव ने बताया कि अपराधी पुलिस बल पर गोली चलाता है तो उसका जवाब गोली से ही दिया जायेगा, फिर वह कोई भी हो. इसके बाद एसएसपी ने बताया कि उनकी प्राथमिकता में शहर की ट्रैफिक व्यवस्था भी है, जिसमें सुधार लाया जा सके और ट्रैफिक व्यवस्था सुधर सके. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनंत देव कहा कि हमारी प्राथमिकता कानून व्यवस्था कायम कराना तथा पीड़ितों को न्याय दिलाना होगी.

पुलिस अधीक्षक अनंत देव सिंह ने कहा कि साथ ही उनकी प्राथमिकता आम जनता के प्रति पुलिस का व्यवहार अच्छा रखने की होगी. महिला संबंधित अपराधों पर फोकस रहेगा और एन्टी रोमियो अभियान चलाया जाएगा. कानून किसी को हाथ में लेने का अधिकार नहीं है जो लेने का प्रयास करेगा उस पर कड़ी कार्यवाही होगी. थानों में पीड़ितों को तहरीर की रिसीविंग दी जाएगी, आईजीआरएस की शिकायतों की समीक्षा कर जवाबदेही तय की जाएगी और ईमानदारी से काम करने वाले अधिकारियों को आगे रखकर काम करने की है. एसएसपी अनन्त देव ने पत्रकारों से कहा कि जनपद में उचित कानून व्यवस्था कायम कराना ही उनकी प्राथमिकता है.  उन्होंने कहा कि एक अभियान के तहत जनपद के वांछित सूचीबद्ध तथा इनामी बदमाशों की धर पकड़ की जाएगी.  पीड़ित व्यक्ति की हर संभव मदद की जाएगी और उनका मुकदमा तुरंत लिखा जाएगा और उसकी ईमानदारी से जांच कर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी,  ताकि आम जन मे पुलिस के प्रति विश्वास व सहयोग की भावना जागृत हो. बता दें कि कानपुर से पहले अनंत देव सिंह सात जिलों के पुलिस अधीक्षक व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रह चुके हैं और एनकाउंटर स्पेशलिस्ट हैं. अनंत देव अब तक 100 से ज्यादा बड़े अपराधियां का खात्मा कर चुके हैं.

Share This Post

Leave a Reply