फैजाबाद में मासूम को खींच ले गया दरिंदा आरिफ.. चीखें दबी रहें इसलिए दुसरे ने कर दिया मुंह बंद.. इलाके में भारी तनाव

बलात्कार के खिलाफ केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाये गये कड़े कानून के बाद भी दुराचारी प्रवृत्ति के व्यक्ति सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं. ये दुराचारी लोग न किसी रिश्ते का मान रखते हैं, न किसी मर्यादा को मानते हैं…ये मानते हैं तो सिर्फ और सिर्फ अपनी हवस को. ये दुराचारी सोच लगातार बच्चियो के जीवन को लीलती जा रही है, महिलाओं की इज्जत को सरेआम उछालती जा रही है. जिस औरत की कोख से ये दरिन्दे जन्म लेते हैं, बड़ा होने पर उसी स्त्री वर्ग के साथ बर्बरता को अंजाम देते हैं.

इसी बहशी, दुराचारी सोच का सोच का शिकार उत्तर प्रदेश के फैजाबाद की एक नाबालिग हुई है जिसके साथ आरिफ तथा उसके साथियों ने तालिबानी अंदाज में अपहरण करके हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए बीभत्स रूप से सामूहिक बलात्कार की घटना की अंजाम दिया.खबर के मुताबिक़, दिन दहाड़े बहशी दरिंदों ने नाबालिग किशोरी का हाथ पकड़ कर उसे जबरन एक कमरे में ले गये जहाँ उसके साथ रेप किया और कमरे में बंद करके फरार हो गये. किशोरी के शोर मचाने पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने कमरे ताला तोड़कर उसे बरामद किया. इस्पेक्टर रामआसरे यादव ने बताया कि मामले में दुराचार व पास्को एक्ट की धारा में मुकदमा पंजीकृत किया गया है. अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम लगी है.

स्थानीय कोतवाली हैदरगंज के जाना बाजार में दर्जी के यहां कपड़ा देकर एक किशोरी अपनी बुआ के घर जा रही थी. दोपहर करीब 12 बजे आरिफ पुत्र ताज मोहम्मद, शहजाद पुत्र शरीफ, सोनू पुत्र ताज मोहम्मद उसका हाथ पकड़कर उसे जबरन एक कमरे में ले गये. जहां उसके साथ दुराचार किया व कमरे में ताला बंद करके फरार हो गये. किशोरी के शोर मचाने पर्र गामीणों ने पुलिस को सूचना दी. जिसके बाद पुलिस ने पहुंच कर कमरे का ताला खोला व किशोरी को बाहर निकाला. किशोरी की मां निवासी बतियाना मजरे मानका पूरा की लिखित तहरीर पर हैदरगंज पुलिस ने आरिफ पुत्र ताज मोहम्मद शहजाद पुत्र शरीफ सोनू पुत्र ताज मोहम्मद निवासी जाना बाजार के विरुद्ध पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत किया है.

Share This Post