Breaking News:

तनु को लेकर भागने वाले खालिद की लाश को दफनाना पड़ा गांव से दूर क्योंकि गाँव के कदम कदम पर फैला था तनाव

हिन्दू युवती तनु के लव जिहादी खालिद के प्रेम के जाल में न फंसने के बाद खालिद द्वारा तनु को उसके ही घर में घुसकर जहर देकर मारने तथा फिर खुद डर कर आत्महत्या के बाद अभी तक क्षेत्र में तनाव फैला हुआ है. मामला उत्तर प्रदेश के मेरठ की सरधना के औरंगानगर रार्धना गाँव का है हिन्दू युवती तनु को खालिद ने उसके ही घर में घुसकर जहर दे दिया तथा तथा लोगों से घिरने के बाद आत्महत्या कर ली थी. तनु की हत्या तथा खालिद की आत्महत्या के बाद शुक्रवार दिन भर गाँव में तनावपूर्ण शांति रही. आरएएफ, पीएसी और पुलिस फोर्स की मौजूदगी के बीच एक अनजानी दहशत बरकरार रही. किशोरी तनु के शव का गांव में ही अंतिम संस्कार किया गया. लेकिन लव जिहादी खालिद के शव को गांव के बजाय गाँव से काफी दूर सरधना में कालंद चुंगी के पास कब्रिस्तान में दफनाया गया क्योंकि हिन्दू समाज काफी आक्रोशित था जिसके चलते गाँव में कदम कदम पर तनाव व्याप्त था.

शुक्रवार सुबह गांव के श्मशान घाट पर किशोरी तनु के शव के अंतिम संस्कार के दौरान सरधना से भारतीय जनता पार्टी के विधायक ठा. संगीत सिंह सोम और ठाकुर चौबीसी के सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे. इस बीच भारी भीड़ तथा हिन्दू समाज के आक्रोश को देखते हुए लव जिहादी खालिद के शव को शाम को पोस्टमार्टम के बाद गांव में न लाकर नगर के मोहल्ला कमरानवाबान निवासी खालिद के बडे़ भाई आस मोहम्मद के घर लाया गया. जहां से उसे दूर के कब्रिस्तान ले जाया गया. इस दौरान एसपी देहात राजेश कुमार, एसडीएम सरधना अमित भारती, तहसीलदार अविनाश कुमार, सीओ सरधना संतोष कुमार सिंह और इंस्पेक्टर सरधना के अलावा कई थानों की फोर्स और पीएसी गांव में तैनात रही.

पोस्टमार्टम के बाद किशोरी तनु का शव जब घर पहुंचा तो परिवार में कोहराम मच गया. उस समय गांव में ठाकुर चौबीसी के आसपास के गांवों से लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था.  तनाव को देखते हुए गांव के बाहर मुख्य रास्तों और अंदर भी अलग-अलग स्थानों पर फोर्स लगाई गई थी. तनु के शव को देखते ही हिन्दू समाज आक्रोशित हो उठा जिससे पुलिस के हाथपांव फूल गये. एसएसपी मेरठ अखिलेश कुमार ने कहा कि गांव में दोनों पक्षों के लोगों से बात की गई है. गांव में शांतिपूर्ण स्थिति है. सुरक्षा की दृष्टि से फोर्स तैनात की गई है. उन्होंने कहा कि ठाकुर चौबीसी के दूसरे गावों के गणमान्य लोगों ने कहा कि वह गांव का सौहार्द नहीं बिगड़ने देंगे.

Share This Post