12 साल की बच्ची का बलात्कार करके कह के भाग गये सलीम और जफर के बेटे कि- ” इतना खून बह रहा इसके, थोड़ी देर में खुद ही मर जायेगी”

आखिर वो कौन सी सोच है महिलाओं को मात्र अपनी हवस की पूर्ती का साधन मात्र समझती हैं? आखिर वह कौन सी सोच है जिसके लिए नारी वर्ग की अहमियत सिर्फ और सिर्फ हवस मिटाने के लिए होती है ?आखिर वो कौन सी सोच हो जो अपनी हवस की भूख में इतनी ज्यादा अंधी हो जाती है कि इसके लिए सारी मान-मर्यादाएं तोड़ देती है तथा अपनी दरिंदगी का शिकार मासूम बच्चियों तक को बना लेती है तथा उनके बचपन को उस्न्की अस्मिता को कुचल देती है? सबसे बड़ा सवाल यही है कि आखिर ये सोच आती कहाँ से है?

इसी बहशी दरिंदगी भरी सोच का शिकार यूपी के मेरठ जिले के रोहटा गाँव की एक 12 वर्षीय नाबालिग बच्ची हुई है जिसके साथ मुस्लिम समुदाय के 2 युवकों ने बारी-बारी से बेरहमी के साथ बलात्कार किया व उसे लहूलुहान कर दिया. इसके बाद बच्ची को लहूलुहान अवस्था में छोड़कर भाग गये. दरिंदों की हरकतों से बदहवास हुई बच्ची जब किसी तरह घर पहुंची तो परिजनों के पैरों तले से ज़मीन खिसक गई, उन्होंने तुरंत पुलिस थाने में इसकी शिकायत की. परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर दोनों आरोपियों को अरैस्ट कर लिया है.

स्थानीय पुलिस के मुताबिक रोहटा गांव में रहने वाली एक बच्ची सोमवार शाम को अपने घर से चंद कदम की दूरी पर किराने की दुकान से कुछ सामान लाने के लिए गई थी. तभी लड़की के घर के पड़ोस में रहने वाले अनस पुत्र सलीम (26) व अफरीदी पुत्र जफर (22) बच्ची को बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गए व एक बंद पड़े मकान में ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया व उसे वहीं छोड़कर भाग गए. पुलिस ने जब परिजनों की शिकायत पर अपराधियों की तलाश की तो क्रिमिनल अपने परिवार सहित गाँव से फरार पाए गए. बाद में कंकरखेड़ा से दोनों आरोपियों को अरैस्ट कर लिया गया. रोहटा थाना के इंस्पेक्टर सुभाष अत्री के अनुसार बालिका का मेडिकल कराया गया है, जिसमे उसके साथ हुए बलात्कार की पुष्टि हुई है. पुलिस ने दोनों आरोपियों के विरूद्ध बलात्कार का मामला दर्ज कर लिया है तथा आरोपियों की गिरफ्तारी भी हो गयी है.

Share This Post