उसे छोड़ देने से पहले उसने हवाले कर दिया 4 और लोगों के.. बहाना बनाया था हलाला का

केंद्र सरकार तथा राज्य सरकारें नारी सुरक्षा, नारी स्वाभिमान के तमाम वादे तथा दावे कर रही हैं लेकिन फिर भी वो कौन सी सोच है जो महिलाओं के खिलाफ अपने बहसी कारनामों को अंजाम देने से बाज नहीं आती है ? आखिर वह कौन सी सोच है जिससे लिए नारी सिर्फ एक खिलौना मात्र है, जिसे साथ वह जब चाहे जैसे चाहे खेल सकता है? एक नारी के गर्भ से जन्म लेने वाला इंसान आखिर कैसे एक नारी की इज्जत को सरेआम तार तार कर देता है, ये सोचकर ही सर शर्म से झुक जाता है.

ऐसी ही बहसी सोच का शिकार उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले की एक महिला हुई है जिसे उसके शौहर ने तीन तलाक दे दिया फिर उसको ४ अन्य लोगों के सामने परोस दिया ताकि वह उसके साथ अपनी हवस को बुझा सकें, उसके साथ गन्दा खेल खेल सकें. पीड़िता ने 9 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराते हुए उन पर रेप और मार​पीट का आरोप लगाया है. पीड़ित महिला ने बताया कि, पति द्वारा तला​क दिए जानें के बाद तीन महीने के लिए उनकी शादी दूसरे शख्स से ​हुई थी लेकिन दो महीने बाद उसने दूसरी शादी कर ली. पीड़िता का आरोप है कि निकाह हलाला के नाम पर चार लोगों ने उसका रेप किया. फिलहाल पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

आपको बता दें कि बता दें कि, 25 मार्च 2012 को पीड़िता की शादी अब्दुल कादिर से ​हुई थी. शादी के एक साल बाद पीड़िता को अपने पति की दूसरी शादी के बारे में पता चला जिसके बाद दोनों के रिश्तों में खटास आने लगी. शादी की बात पता चलने के कुछ दिनों के अंदर ही अब्दुल ने पीड़िता को तीन तला​क दे दिया. फिर दोबारा निकाह के लिए ४ लोगों से हलाला कराया. लेकिन हलाला के बाद भी उससे शादी नहीं बल्कि किसी दुसरी लड़की से शादी कर ली.

Share This Post