शौहर से बोली बीबी- “तुम मेरे नहीं तो दूसरी वाली के भी नहीं”.. फिर दी वो सजा जो है मौत से भी बदतर”

शायद यही एक रास्ता बचा था सायदा के पास क्योंकि बाकी सारे तरीके वह अपना चुकी थी लेकिन हर जगह उसको निराशा हाथ लगी थी. वैसे यूनुस सायदा से कहता था कि वह उसको बहुत प्यार करता है तथा उसके बिन रह नहीं सकता. सायदा को भी यही लगता था कि यूनुस सिर्फ उसका है तथा वह अक्सर कहती थी कि वह बहुत सौभाग्यशाली है जो उसको यूनुस जैसा शौहर मिला है. फिर एक दिन ऐसा हुआ जिसकी कल्पना तक नहीं कर सकती थी. यूनुस ने मजहबी इजाजत का हवाला देते हुए सायदा के रोकने के बाद भी दूसरा निकाह कर लिया. यूनुस के दूसरे निकाह से सायदा टूट गयी तथा हरा तरफ से निराशा मिलने के बाद शायदा ने यूनुस को वो सजा दी जिसे वह कभी भूल नहीं सकेगा.


आपको बता दें कि अपने शौहर यूनुस के दूसरे निकाह से नाराज सायदा ने यूनुस का प्राइवेट पार्ट काट दिया. मामला उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर का है जहाँ एक महीने पहले यी घटना घटित हुई. खबर के मुताबिक, मुजफ्फरनगर शहर कोतवाली क्षेत्र के मिमलाना रोड पर युनुस किराए के मकान में रहता था. बुधवार तड़के उसकी पत्‍‌नी सायदा ने उसे पहले नशीला पदार्थ पिला दिया. युनुस के नींद में होने पर साढे चार बजे सायदा ने चाकू से युनुस का गुप्ताग काट दिया. युनुस ने शोर मचाया तो आसपास के लोग मौके पर इकट्ठा हो गए. मोहल्ले के लोगों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन तब तक यूनुस आपने गुप्तांग को गँवा चुका था तथा सायदा उसे कभी न भूलने वाली सजा दे चुकी थी.


इसके बाद युनुस की बहन शबनम ने सायदा के खिलाफ शहर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करायी. बताया गया है कि युनुस ने एक साल पूर्व दूसरा निकाह किया था। तब से उसका सायदा से विवाद चल रहा था. सायदा चार लड़कियों की मा है. पूछताछ में यह भी सामने आया कि युनुस अपनी पहली पत्‍‌नी सायदा को खर्चा भी नहीं देता था तथा सायदा को लगातार नजरअंदाज कर रहा था, जिससे शायदा अंदर ही अंदर घुट रही थी. सायदा ने यूनुस को समझाने के काफी प्रयास किये थे लेकिन यूनुस नहीं माना तो अंततः सायदा ने यूनुस को खुद ही सजा देने की ठान ली तथा उसका गुप्तांग काट दिया. 

Share This Post