मजार वाले बाबा की वो इतनी बड़ी भक्त थी कि हर काम को छोड़ कर वहां जाती थी.. लेकिन एक दिन हुआ ऐसा कि…

में तो मजार वाले बाबा की मजार पर जरूर जाउंगी. में उनको बहुत मानती हूँ. मजार वाले बाबा की वो बहुत बड़ी भक्त थी. इतनी बड़ी भक्त थी की वह अपने सारे काम छोड़कर मजार वाले बाबा के पास जरूर जाती थी. चाहे कितना भी नुक्सान हो जाये लेकिन उसको मजार वाले बाबा की मजार पर जाना ही था. उस दिन भी वह मजार वाले बाबा के पास गयी थी. लेकिन लौटते वक्त उसके साथ वो हुआ जिसकी उसने कल्पना तक नहीं की थी. उसकी इज्जत तार-तार कर दी गयी, उसका सामूहिक दुराचार किया गया.

उस दिन मजार जाना उसको भारी पड़ गया. मजार से वापस घर जा रही महिला से गैंगरेप के आरोप में रिपोर्ट दर्ज की गई है. घटना चार दिन पूर्व की है. क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि चार दिन पूर्व वह गांव मैदाखेड़ा में मजार पर गई थी. वापस घर आते समय गांव कैमहरिया का समीमुद्दीन अपने एक साथी को लेकर बाइक से आया और उसे रोक लिया तथा उसके साथ छेड़खानी करने लगे. महिला ने बताया कि उसने विरोध किया तो उसके साथ हाथापाई की तथा दोनों ने उसे धमकी दी कि शोर मचाने पर जान से मारकर खाईं में फेंक दिया जाएगा.

महिला का कहना है कि इसके बाद दोनों उसको खेत में खींच ले गये तथा बारी बारी से उसके साथ बलात्कार किया. बाद में आरोपी कहीं भी शिकायत करने पर पूरे परिवार को मार देने की धमकी देते हुए चले गए. महिला के अनुसार वह घर गई और युवकों के भय के कारण घर से नहीं निकली क्योंकि आरोपी उसे लगातार धमका रहे थे. सोमवार को वह किसी तरह बचते हुए खुटार थाने पहुंची और तहरीर दी. पुलिस ने समीमुद्दीन और उसके अज्ञात साथी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है. थाना प्रभारी राहुल सिंह ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर महिला को मेडिकल के लिए भेजा गया है. आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा. आशंका जताई गयी है कि शमीमुद्दीन भी मजार पर आता जाता था तथा उसका वहां के लोगों से परिचय भी था. संभावना जताई है कि कई दिन से शमीमुद्दीन की महिला पर नजर थी व् उस दिन वह अपनी साजिश को अंजाम देने में कामयाब हो गया तथा महिला की इज्जत को तार-2 कर दिया.

Share This Post

Leave a Reply