Breaking News:

हिन्दुओं को मारने के लिए पूरी भीड़ जमा कर लाया समाजवादी पार्टी का नेता… सतर्क पुलिस ने बचा लिया खून खराबा लेकिन अभी भी भारी तनाव

जनता ने घुटनों के बल ला दिया लेकिन सोच है कि बदलने का नाम नहीं लेती. सत्ता चली गई लेकिन समाजवाद के नाम पर समाज में दहशत फैलाने वाले मजहबी आक्रांताओं की अकड़ नहीं गई. अगर उत्तर प्रदेश की शामली पुलिस समय पर न पहुँचती तथा सजगता न दिखाती तो शायद शामली दंगों की आग में झुलस रहा होता तथा तथाकथित धर्मनिरपेक्ष नेता इन दंगों की आड़ में अपनी राजनैतिक रोटियां सेंक रहे होते. खबर के मुताबिक़, उत्तर प्रदेश के अतिसंवेदनशीन जिलों की फेहरिस्त में शामिल शामली में शरारती तत्वों ने नगर को साम्प्रदायिक हिंसा की आग में झुलसाने की नाकाम कोशिश की, हालांकि पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए न सिर्फ इसे नाकाम कर दिया, बल्कि शामली को दहलाने की कोशिश करने वाले समाजवादी पार्टी से जुडे एक स्थानीय नेता समेत सात लोगों के खिलाफ संगीन धाराओं में मामला दर्ज किया है.

पुलिस ने सोमवार को बताया कि शहर कोतवाली के मौहल्ला सरवरपीर बरखंडी में विकास की दुकान में पर रविवार देर रात कल्लू उर्फ घोड़ा नामक युवक सिगरेट की डिब्बी लेने के लिए आया था. पैसे मांगने पर कल्लू ने दुकानदार के साथ मारपीट शुरू कर दी थी. दुकानदार के विरोध जताने पर सपा का कथित नेता राशिद पहलवान 3०-4० युवकों के साथ मौके पर पहुंचा और दुकानदार पक्ष पर हमला कर दिया. इसके बाद देखते ही देखते ताबडतोड फायरिंग शुरू कर दी गई तथा दंगा फैलाने का प्रयास किया जाने लगा. सपा नेता के साथ आई भीड़ ने मौके पर पथराव भी किया गया था. घटना के बाद क्षेत्र में तनाव फैल गया। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने सपा नेता समेत तीन लोगों को हिरासत में ले लिया था. पीडित दुकानदार विकास की तहरीर पर राशिद पहलवान, कल्लू उर्फ घोडा, वाजिद, जाहिर, माना, अरशद और एक अज्ञात के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 323, 336, 5०6 और सात आपराधिक कानून (संशोधन) अधिनियम 1932 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है.

स्थिति दोबारा न बिगड़े इसके लिए क्षेत्र में एहतियात के तौर पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है. पीडित दुकानदार ने पुलिस को दी गई तहरीर में सपा नेता पर लोगों को उकसाकर दंगा फसाद करने की साजिश रचने का आरोप लगाया है. उसका आरोप है कि मुकदमे में नामजद कुछ आरोपी स्मैक का भी काम करते हैं. पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है. पुलिस का कहना है कि माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा, चाहे वह कोई भी हो.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW