मेरठ में बुरी तरह से पीटा गया लव जिहादी व मनचला जाहिद ..अपने कुकृत्यों का आरोप मढ़ा हिन्दू युवा वाहिनी पर

उत्तर प्रदेश के कासगंज की घटना से शायद जेहादी विचारधार व मज़हबी कट्टरपंथी किसी भी प्रकार से कोई शिक्षा लेने को तैयार नही हैं ..पहले उन्होंने तिरंगे की यात्रा के खिलाफ धावा बोला तो मेरठ में बहन बेटियों की इज्जत पर हाथ डालने की कोशिश की लेकिन यहां का हिन्दू समाज सतर्क था और उन्होंने बहन बेटी की इज्जत पर बात आने पर कानून अपने हाथ तक मे ले डाला है ..

ये घटना मेरठ की है जहां लगातार शिकायत व मिन्नत के बाद जब कुछ मुस्लिम समुदाय के मनचले अपनी हरकतों से बाज़ नही आये तो उन्हें जनता के आक्रोश का शिकार होना पड़ा और हिन्दू युवा वाहिनी पर पिटाई का आरोप लग गया , यद्द्पि अभी इस मामले में कितनी राजनीति प्रेरित व कितने झूठे आरोप हैं इसकी जांच की जा रही है ..हैरानी की बात ये रही कि छेड़छाड़ से पीड़ित लड़कियों के मामले में कभी न बोलने वाले एक पत्रकार ने जनता के आक्रोश को ही गलत ठहराया और पुलिस में शिकायत की ..

एकपक्षीय विचारधारा के उस पत्रकार की सूचना पर हिंदू युवा वाहिनी के स्टेट सेक्रेटरी नागेंद्र तोमर और इस भिड़ंत में शामिल अन्य लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। आरोप लगाया गया है कि घटनास्थल मेरठ के मोहनपुरी इलाके में चार मुस्लिम युवकों की पिटाई करने वाले समूह का नेतृत्व तोमर कर रहे थे। आरोपो के अनुसार हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने एक बेहद मनचले स्वभाव व हिन्दू समाज की लड़कियों को आये दिन तंग करने वाले जाहिद खान नाम के एक मुस्लिम युवक पर एक अन्य समुदाय की लड़की से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है। इस मामले में तोमर का कहना है कि वह चारों मुस्लिम युवकों को पुलिस के हवाले करना चाहते थे, लेकिन ‘हमारे समूह के कुछ अज्ञात लोगों ने चारों की पिटाई करनी शुरू कर दी।’ इस मामले में जाहिद खान का नेटवर्क लव जिहाद एंगल से भी जांच करने योग्य है जिसके बयानों में लड़की उनकी दोस्त बताई जा रही जबकि लड़की के परिजन इस से मुकर रहे ..

Share This Post

Leave a Reply