बलात्कारी अब्दुल सत्तार को भी तांत्रिक बताया जा रहा जबकि उनमें तंत्र आदि का कोई नियम क़ानून नहीं.. क्यों बदनाम किया जा रहा हिंदुत्व को

मजहबी दुराचारी सोच से ग्रसित अब्दुल सत्तार ने एक 7  वर्षीय मासूम बच्ची के बचपन को अपने हवस की भूख में रौंद दिया तथा उसके साथ जबरन बेरहमी के साथ बलात्कार की घटना को अंजाम दिया. जिस अब्दुल सत्तार ने मासूम के जीवन को तबाह कर दिया उस अब्दुल सत्तार को तांत्रिक बताया जा रहा है तथा निशाने पर है हिंदुत्व क्योंकि हिन्दू धर्म में ही तंत्रज्ञान है लेकिन बलात्कारी अब्दुल सत्तार को तांत्रिक बताकर एक बार फिर से तंत्र विद्या तथा इस बहाने हिंदुत्व को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है.

मामला उत्तर प्रदेश के आगरा के मंटोला क्षेत्र का है. खबर के मुताबिक़, तांत्रिक बताये जा रहे अब्दुल सत्तार ने रुपयों का लालच देकर सात साल की बच्ची से दुष्कर्म किया. बच्ची के पहुंचने पर परिजनों को घटना की जानकारी हुई. परिजन उसे थाने पर ले गए. पुलिस ने पीड़ित बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया। आरोपी को पकड़ लिया. इसके बाद उसे जेल भेज दिया गया. घटना तीन जुलाई की है. बताया गया है कि सात साल की बच्ची घर के पास खेल रही थी. तभी दूसरे मोहल्ले का 50 वर्षीय अब्दुल सत्तार आया, उसने बच्ची को रुपयों को लालच दिया. इसके बाद अपने साथ ले गया तथा घर में ले जाकर बच्ची से दुष्कर्म किया.

बच्ची रोती हुई घर पहुँची तो उसकी हालत देखकर परिजनों ने पूछा तो घटना की जानकारी दी. परिजन बच्ची को थाने पर ले आए. बच्ची की हालत बिगड़ने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया. पुलिस ने बताया कि आरोपी क्षेत्र में बाबा के नाम से जाना जाता है. वो घर में जादू-टोना करने का दावा करता है इसलिए उसे लोग तांत्रिक भी कहते हैं. उसके कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया.

Share This Post

Leave a Reply