बलात्कार के समय ज्यादा चीखे इसलिए ब्लेड से काट भी रहा था कक्षा 6 की मासूम को… जनता फांसी मांग रही अरमान खान के लिए

आखिर वो कौन सी सोच है जो महिलाओं को सिर्फ और सिर्फ एक खिलौना मात्र समझती है? आखिर वो कौन सी सोच है जो अपनी हवस की पूर्ती के लिए दरिंदगी की सारी हदें पार कर देती हैं तथा इसके लिए कुछ भी करने पर उठाऊ हो जाती है? ये सोच न तो अपनी माँ की आयु की महिलाओं का लिहाज करती है और न ही छोटी बच्चियों को छोडती है.. सवाल उठता है कि ए दिन महिला सम्मान के साथ खिलवाड़ करने वाले लोग क्या वास्तव में इंसान कहलाने लायक हैं?

इंसानियत को तार तार करती हुई इसी हैवानियत भरी हुई सोच का शिकार उत्तर प्रदेश के बरेली की एक नाबालिग मासूम हुई है जिसके साथ अरमान खान नामक एक बहसी दरिन्दे ने बर्बरतापूर्ण तरीके से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. खबर के मुताबिक़ पीडिता नाबालिग है तथा छठी कक्षा में पढ़ती है. बताया गया है कि मासूम के पड़ोस में रहने वाले दुराचारी अरमान खान ने नाबालिग छात्रा को स्कूल जाते वक्त घर मे खींच लिया और फिर नल से बांधकर उसके साथ रेप किया. अरमान खान यही नहीं रुका बल्कि उसने दरिंदगी की सारी हदें पार कर दीं और उसने पीडिता के हाथों को ब्लेड से काट दिया ताकि उसको और ज्यादा दर्द दिया जा सके.

सोमवार को अपने परिजनों के साथ ये बच्ची बरेली के एसएसपी ऑफिस में शिकायत करने पहुंची थी। ये लड़की 6 क्लास की छात्रा है. छात्रा का आरोप है कि पड़ोस में रहने वाले अरमान खान नाम के युवक ने उसको स्कूल जाते वक्त खींच लिया और फिर उसके साथ रेप किया. इतना ही नहीं विरोध करने पर उसको नल से बांधकर पीटा और फिर ब्लेड से उसके दोनों हाथ काट दिए. वहीं इस मामले में महिला थाने में आरोपी लड़के और उसके माँ बाप के खिलाफ रेप और मारपीट का मुकदमा दर्ज किया गया है. चूंकि पीड़िता नाबालिग है इसलिए पास्को एक्ट में भी लगाया गया है. इस मामले में सीओ नीति दिवेदी का कहना है की मामले की जांच की जा रही है.

Share This Post