“अगर शरिया चाहिए तो पाकिस्तान निकल लो, ये भारत है..यहां शरिया नहीं चलेगा”… ये शब्द किसी किसी हिन्दू के नहीं

अगर किसी को शरिया क़ानून चाहिए, शरिया दलित चाहिए तो वह पाकिस्तान चला जाए, सऊदी अरब चला जाए, ईरान चला जाए किसी भी इस्लामिक मुल्क चला जाए क्योंकि ये हिंदुस्तान हैं, यहां शरिया नहीं चलेगा, नहीं चलेगा, नहीं चलेगा.. ये शब्द किसी हिन्दू के नहीं हैं बल्कि मुस्लिम के हैं. वो मुस्लिम जो योगी सरकार में मंत्री हैं, जी हाँ..हम मोहसिन रजा की बात कर रहे हैं.  मोहसिन रजा ने कहा, ‘हमारे देश में एक संविधान है और एक देश में दो कानून नहीं होते. देश संविधान से चला है’. देश में शरिया कानून नहीं चलता है’. उन्होंने तंज कसते हुए कहा, ‘हमारा दिल बहुत बड़ा है. अगर किसी को शरिया अदालत से इश्क रखता है. तो वो इस्लामिक मुल्क जा सकता है, हम उसे बड़े प्रेम से विदा कर देंगे’.

योगी कैबिनेट के सदस्य मोहसिन रजा ने ये बात उन्नाव में किसान सम्मेलन के दौरान कहीं. इस दौरान उन्होंने बीजेपी शासन में किए गए कार्यों की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार की तरफ से किसान हितों के लिए बहुत सी जनकल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिससे किसानों को लाभ मिल रहा है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री मोहसिन रजा ने अपने संबोधन में कहा कि सरकार ने अपने घोषणा पत्र में जो भी जनता और किसानों से वादे किए थे. वो आज सभी पूरे हो रहे हैं. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछली सरकारों ने जनता व किसानों को सिर्फ छलने का काम किया है. पूर्ववर्ती सरकारों में किसानों को उनकी फसल का कभी भी उचित रेट नहीं मिल पाया है, जिसके वजह से किसानों को सिर्फ नुकसान हुआ है जबकि केंद्र की मोदी सरकार तथा राज्य की योगी सरकार किसानों के हित में काम कर रही हैं.

बता दें कि ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के देश के सभी जिलों में इस्लामिक शरिया अदालत खोलने के एलान के एक नई बहस शुरू हो गई है. इसी के साथ सेना में मुस्लिमों की संख्या, ट्रिपल तलाक और हलाला कानून की बात की जा रही है. इसी को लेकर योगी सरकार में मंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि किसी के कहने से शराया अदालत लागू नहीं हो सकती. शरिया चाहिए तो इस्लामिक मुल्क जा सकते हैं. ये हिंदुस्तान हैं यहां शरिया नहीं चलेगा यहां संविधान चलेगा.

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW