UP में अब भगवामय हुई पुलिस कालोनियां भी .. योगीराज में वैदिक काल की तरफ उत्तर प्रदेश

योगीराज के आते ही उत्तर प्रदेश की भगवा सरकार में रोडवेज बसे , सब्ज़ी मंडिया ही क्या अब हाईवे के टोल प्लाज़ा के साथ साथ अब यूपी पुलिस के आवास भी भगवा हो गए है। ये वो रंग है जो वैदिक काल में भारत की पहिचान हुआ करता था जिसे कुछ तथाकथित बुद्धजीवियो ने विवाद का विषय बनाना चाहा था और कुछ नकली सेकुलरों ने भगवा आतंकवाद जैसा घृणित शब्द उसमे जोड़ना चाहा .. लेकिन जनता ने सब देखा और जाना और अब वही भगवा प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में सहर्ष रूप से स्वीकार किया जा रहा है ..ये बदलते परिवेश का ही परिणाम है जो दे रहा है एक सुखद एहसास 

मुज़फ्फरनगर में पुलिस लाइन के पुलिस क्वार्टर पर भगवा रंग देखने को मिल रहा है। जी हाँ मुज़फ्फरनगर में पुलिस लाइन के अंदर बने पुलिस क्वार्टरो पर अब भगवा रंग बिखरने लगा है पिछले कई वर्षों से पिले रंग में दिखाई देने वाले पुलिस लाईन में बने क्वार्टरो को पूरी तरह भगवा रंग में रंगा गया है। जो इस समय ख़ासा चर्चाओं का विषय भी बना हुआ। दरअसल सूबे में योगी आदित्यनाथ की सरकार आने के बाद भगव रंग का प्रचलन बढ़ गया है ।पहले सरकारी दफ्तर सब्जी मंडी टोल प्लाजा और अब खाकी वर्दी(पुलिस कर्मी) वालो के पुलिस लाइन में बने सरकारी आवास भी भगवा रंग में रंग गए है ।

ताजा मामला मुज़फ्फरनगर स्थित रिजर्व पुलिस लाईन का है जहां पर सैकड़ो की संख्या में पुलिस कर्मियों के आवासीय सरकारी क्वाटर है ।जिन्हें भगवा रंग में रंग दिया गया है या यूं कहिये की सरकार के रंग में रंग दिया गया है ।इतना ही नही पुलिस लाइन में स्थित परिवार कल्याण के कार्यालय को भी भगवा रंग में रंग दिया गया है ।इस भगवा रंग में रंगे पुलिस क्वाटर क्षेत्र में चर्चा का विषय बने हुए है वही पुलिस अधिकारी का कहना है कि रंगों का कोई फर्क नही पड़ता है रंग तो रंग ही है । आम जनता ने इस रंग को देख कर हर्ष व्यक्त किया है और इसको एक सकारात्मक बदलाव के रूप में स्वीकार किया है . 

Share This Post

Leave a Reply