हरा रंग ऊपर रहे, इसके लिए तिरंगे को उल्टा कर के फहरा दिया मदरसे में. मदरसा UP के बदायूं का जिसका नाम “गुलशन – ए – इस्लाम “

वोटों के लालच में जो प्रयोग अंदर ही अंदर भारत की राजनीति पिछले 70 सालों से कर रही थी वो अब सतह पर सामने दिखना शुरू हो चुका है .. देश भर से कई ऐसे उदाहरण देखने को मिल रहे हैं जो देशभक्ति की परिभाषा ही बदल कर रख देंगे .प्रदेश के मदरसों में जिस प्रकार से शासन के आदेश की अवहेलना की गई है उसके कुछ उदाहरण वायरल वीडियो में देखे जा सकते हैं और कई उदाहरण ऐसे भी हैं जिन्हें जानबूझ कर दबाया गया .  जैसे कि उत्तर प्रदेश के ही बरेली परिक्षेत्र में पड़ने वाले बदायूं जिले में ..

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में स्वतंत्रता दिवस की वर्षगाँठ उत्साह पूर्वक मनाई गई लेकिन, कुछेक स्थानों पर तिरंगे का अपमान होने की खबरें आ रही हैं। स्वतंत्रता दिवस की वर्षगांठ के अवसर पर तिरंगे का अपमान होने से लोग आहत नजर आ रहे हैं लेकिन, ऐसी घटनाओं से पुलिस-प्रशासन अनिभिज्ञ दिखाई दे रहा है। उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने निर्देश दिया था कि मदरसों में न सिर्फ तिरंगा फहराया जाये बल्कि, आजादी की वर्षगाँठ के अवसर पर “भारत माता की जय” का नारा भी लगाया जाये, इस निर्देश का तमाम स्थानों पर व्यापक विरोध किया गया ..

अब बात करते हैं कस्बा फैजगंज बेहटा में स्थित मदरसा गुलशन-ए-इस्लाम की, यहाँ तिरंगा उल्टा इसलिए फहरा दिया गया जिस सेे हरा रंग सबसे ऊपर रहे , बाकी सब उसके नीचेे ..येे घटना बुधवार की सुबह की है जब  इस मदरसे मेंं उल्टा ध्वज फहराया गया ..इतना ही नहीं, इसको फहराने के बाद मदरसा संचालकों नेे इसको सोशल मीडिया पर शेयर भी कर दिया .. जब इसका विरोध हुुआ तब जा के क्रम के फोटो डिलीट कर दिए,  इसी तरह कस्बा वजीरगंज में भी सुबह बाइक सवारों ने रैली निकाली तो, तिरंगे का अपमान होने की बात सामने आई लेकिन, यहाँ भी किसी के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW