जहरीली हवा में सांस लेने को मजबूर है फैजाबाद के बीकापुर क्षेत्र की जनता.. एक फैक्ट्री के चलते सडको पर उतरी जनता


फैजाबाद जिले के पर्यावरण विद और प्रशासन के लिए ये मामला निश्चित रूप से किसी चुनौती से कम नहीं है. शुद्ध जल और शुद्ध हवा आम जनता की मुख्य और बुनियादी जरूरत है जो कम से कम फैजाबाद के ग्राम शितवर में नहीं मिल रही है . यहाँ की एक फैक्ट्री ने उन तमाम लोगों का सामान्य जीवन छीन लिया है और आम जनता जूझ रही है अपनी बुनियादी जरूरतों के लिए .. अफ़सोस कि मुख्यालय में बैठे अधिकारियो तक इसका कुप्रभाव नहीं पहुच रहा इसलिए वो इस मामले में असंवेदनशीलता दिखा रहे हैं , जैसा कि स्थानीय लोग आरोप भी लगा रहे हैं . ये फैक्ट्री इतना तो तय है कि ये फैक्ट्री मोदी और योगी के सफाई अभियान / स्वच्छता मिशन के पैमाने पर किसी भी रूप में फिट नहीं बैठ रही है जैसा कि स्थानीय जनता आरोप लगा रही है . 

फैजाबाद जिले के ग्राम पंचायत शिवतर में स्थित एक फैक्ट्री के चलते स्थानीय लोगों का जीवन दुश्वार हो चुका है . वायु प्रदूषण से खफा ग्रामीणों ने फैक्टरी के सामने ग्राम प्रधान रमाशंकर तिवारी की अगुवाई में धरना दिया। जिलाधिकारी को ज्ञापन भेजकर फैक्ट्री को बंद कराने की मांग की। ग्राम प्रधान के अनुसार यह फैक्ट्री करीब 6 माह पूर्व स्थापित की गई। इससे निकलने वाले वायु प्रदूषण से सांस लेना मुश्किल हो गया है। अजीब किस्म की गैस से आसपास के लोगों को परेशानी महसूस होने लगी है।

धरने में ग्राम प्रधान के अलावा अशोक पांडेय, राम प्रकट, देवमणि पांडेय, रामप्रकाश, र¨वद्र पांडेय, गगन राय, जगप्रसाद, देवनारायण ¨सह, राधेश्याम, ऋषभ पांडे, विजय पांडे, रघुनाथ यादव, श्रीनाथ, प्रदीप पांडे, सरजू यादव व इंद्रभान पांडे शामिल रहे। वहीं फैक्ट्री मालिक मणींद्र शुक्ला के अनुसार फैक्ट्री शासन के मानक का अनुपालन करती है। जयनंद इंटर कालेज के प्रबंधक मनोजकुमार यादव ने भी इसके खिलाफ कोतवाली बीकापुर में शिकायत की है। आरोप लगाया स्कूल के पास कचरा फैंके जाने से दुर्गंध आ रही है। हल्का दरोगा विवेक कुमार राय ने बताया कि शिकायत की जांच की जा रही है जांच उपरांत आवश्यक कार्यवाही उच्चाधिकारियों को प्रेषित की जायेगी . 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...