इलाहाबाद हाईकोर्ट की 150वीं वर्षगांठ पर बोले पीएम मोदी- SMS से मिले मुकदमे की तारीख

लखनऊ : इलाहाबाद हाईकोर्ट की आज 150वीं वर्षगांठ पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में पहली बार सीएम बनने के बाद योगी आदित्यनाथ सार्वजनिक मंच पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले। मंच पर पीएम मोदी के साथ चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया, यूपी के राज्यपाल राम नाईक भी मौजूद रहे।

समापन समारोह में पीएम मोदी ने कहा कि साल भर चला ये समारोह समापन के साथ नए भारत का सपना पूरा कर रहा है। समारोह में शामिल होकर मैं खुद को गर्वित महसूस कर रहा हुं। उन्होंने कहा कि इलाहाबाद हाईकोर्ट भारत का न्याय विश्व का तीर्थ क्षेत्र है। चीफ जस्टिस ने जो कुछ भी कहा उनके शब्दों में पीड़ा को समक्षा जा सकता है। चीफ जस्टिस जिस संकल्प से आपको प्रेरित कर रहे हैं उसमें सरकार साथ है। राधाकृष्णन के कहा था कानून का काम हर किसी का कल्याण है।

पीएम मोदी ने कहा कि काननू सबके लिए सिर्फ अमीरों के लिए नहीं। 50 साल बाद राधाकृष्णन जी की कही हुई बात आज भी उतनी ही सही है। आजादी की लड़ाई से जुड़े ज्यादतर नेता इलाहाबाद से जुड़े रहे हैं। 2022 के लिए हर नागरिक के लिए संकल्प लें और उस पर काम करें। सवा करोड़ देशवासी देश को सवा सौ कदम आगे ले जा सकते हैं। तकनीक की वजह से वकीलों का काम आसान हो गया। हमने 1200 कानून खत्म कर दिए हैं।

उन्होंने कहा कि अब केस की तारीख मिलने में दिक्कत नहीं आएगी। एक एसएमएस से मुकदमों की तारीख मिल जाएगी। मोबाइल से केस की तारीख मिलने में अब कोई दिक्कत नहीं होगी। जेल और कोर्ट अगर जुड़ जाते हैं तो कैदी भाग नहीं पाएंगे। जेलर से कोर्ट जुड़ जाएंगे। वहीं, कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा मुझे कार्यक्रम में शामिल होने पर गर्व महसूस हो रहा है। कानून से कोई बड़ा नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि निष्पक्ष न्याय देना सरकार का कर्तव्य है। कानून का स्थान शासक से ऊपर होता है और समाज कानून से ही चलता है।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW