Breaking News:

फर्रुखाबाद की जेल पर कैदियों का कब्जा, प्रभारी डीएम सहित आधा दर्जन घायल

फर्रूखाबाद : उत्तर प्रदेश के फतेहगढ़ जिला जेल पर कैदियों ने पूरी तरह से कब्जा कर लिया है। इस दौरान जेल में कैदियों और बंदी रक्षकों के बीच खूनी झड़प भी हई। बंदियों ने बंदी रक्षकों और जेल अधिकारियों पर जमकर पथराव भी किया जिसमें सीडीओ फर्रुखाबाद और जेल अधीक्षक बुरी तरह से घायल हो गए।

इसके साथ ही कैदियों ने जेल के गेट नंबर 2 को आग के हवाले कर दिया जिससे पुलिस जेल के अंदर ना आ सके। इससे पहले वार्ता करने के प्रयास में प्रभारी जिलाधिकारी एनपी पांडेय, जेल अधीक्षक आरके वर्मा, फतेहगढ़ कोतवाली प्रभारी अनुज निगम व एक बंदीरक्षक संतोष कुमार घायल हो गए हैं।

वहीं एक बंदी राजेश भी पोल पर चढ़ने के प्रयास में गिरने से घायल हो गया है। सभी घायलों को लोहिया अस्पताल भेजा गया है। जानकारी के मुताबिक, राजेपुर क्षेत्र के कैदी अतुल धारा 302 और 376 का मुल्जिम है। काफी दिनों से जेल के अस्पताल में भर्ती था।

जेल के डॉक्टर नीरज कुमार ने शनिवार को तबीयत सही होने के कारण डिस्चार्ज कर दिया। अतुल इसका विरोध कर रहा था। उसी को लेकर विवाद शुरू हुआ और विवाद इतना बढ़ा गया कि कैदी अतुल ने सिपाही से मारपीट कर दी। इसके बाद जब जेल प्रशासन ने सख्ती की तो कैदी एकजुट हो गए और पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया।

बचाव में आए बंदीरक्षक काफी देर तक कैदियों का गुस्सा शांत होने का इंतजार करते रहे लेकिन इसी दौरान कुछ कैदियों ने जेल के कंबल, गद्दों में आग लगा दी। सूचना मिलने पर प्रभारी जिलाधिकारी सीडीओ एनपी पांडेय के अलावा पुलिस अधीक्षक विभिन्न थानों की फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। अधिकारियों के मुताबिक, कैदी अभी भी जेल में पथराव कर रहे हैं। कैदियों ने पूरी तरह जेल पर कब्जा कर लिया।

बताया जा रहा है कि जब जेल में पत्थरबाजी हो रही थी तब कुछ कैदियों के पास फोन भी दिखाई दिए जिनसे वो पुलिस पर पथराव की रिकॉर्डिंग कर रहे थे। अभी भी पुलिस और जेल प्रशासन और कैदियों के बीच संघर्ष जारी है। जिले के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

Share This Post