इंजीनियर भी बना, फिर सब इंस्पेक्टर भी बना लेकिन सबको छोड़कर शामिल हुआ BSF में और आतंकियों से लड़ते हुए प्राप्त की वीरगति

उत्तर प्रदेश के एटा जिले के सादियापुर जिले के भारतमाता के लाड़ले, अमर हुतात्मा रजनीश के अंदर हमेशा से ही देशसेवा का जूनून रहा. रजनीश बचपन से ही हिन्दुस्तान के लिए जीने मरने की बातें करता था. लेकिन जैसे कि हर माता-पिता की चिंता होती है कि उनका बेटा तरक्की करे तो भविष्य को संवारने की राह में जब रजनीश के कदम बढ़े तो वह इंजीनियर बना. लेकिन रजनीश के अंदर देश की रक्षा का जुनून बरकरार रहा और आखिरकार वो वर्ष 2012 था, जब रजनीश का देश की रक्षा का सपना पूरा हुआ.

2012 में रजनीश ने इंजीनियर की नौकरी को ठुकरा कर कदम बार्डर की ओर बढ़ा दिए. इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़कर सेना में भर्ती होकर रजनीश ने देश की रक्षा में अपना बलिदान दिया तथा जांबाज रजनीश अपने परिवार के साथ जिले का नाम रोशन कर गया. कहा जाता है कि देश रक्षा से बड़ा कोई धर्म नहीं होता है. अमर बलिदानी रजनीश ने अपने इस धर्म का बखूबी निभाया, मगर अपने पीछे वह एक कहानी छोड़ गया. कहानी इंजीनियर से देश सेवक बनने और युवाओं के लिए मिसाल बनने की. रजनीश के परिजन बताते हैं कि रजनीश को को बचपन से ही देश भक्ति गीत सुनना काफी पसंद था. इसे लेकर वह देश की रक्षा करने के लिए वह हमेशा प्रयासरत रहते थे. परिजनों ने बताया कि बीटेक की डिग्री प्राप्त करने के बाद रजनीश का सबसे पहला चयन पुलिस विभाग में एसआई के पद पर हुआ था लेकिन इसमें रजनीश ने ज्वाइनिंग नहीं की.

इसके बाद बलिदानी रजनीश की दूसरी नौकरी केमिकल इंजीनियर के पद पर लगी थी. जिसे कुछ समय करने के बाद उसने छोड़ दिया तथा जब वर्ष 2012 में बीएसएफ में भर्तियां हुई तो मन में पल रहे देश सेवा के अरमान को मानों पंख लग गए. जवान ने बीएसएफ में एसआई के पद पर नियुक्ति पाई और बार्डर पर बंदूक लिए जुट गया वतन की रक्षा में. गुरुवार को जब तिरंगे में लिपटकर रजनीश  का पार्थिव शरीर गांव पहुंचा तो लोगों की जुुबां पर उसकी कामयाबी की दास्तां तैरने लगी. लोग आँखों से बहती अश्रुधाराओं के साथ जवान की सराहना करते नजर आए. बलिदानी रजनीश के अंतिम संस्कार के दौरान भारत माता की जय तथा शहीद रजनीश अमर रहें के नारों से आकाश गूँज उठा. सुदर्शन परिवार भी देश की रक्षा के यज्ञ में अपने प्राणों की आहुति देने वाले बलिदानी रजनीश को शतत श्रद्धांजलि अर्पित करता है..!!

Share This Post

Leave a Reply