जिन्ना के विवाद पर दहाड़ उठे प्रतापगढ़ के रघुराज… जानिए क्या सदेश है उनका अलीगढ़ के लिए

रघुराज प्रताप सिंह उर्फ़ राजा भैया.. उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ की कुंडा से निर्दलीय बिधायक राजा भैया पूरे देश में बेहद लोकप्रिय चेहरा हैं. पूर्वांचल में राष्ट्रवाद के ज्वलंत प्रतीक राजा भैया की तूती बोलती है. देश का बंटवारा कराने वाले जिहादी कट्टरपंथी मोहम्मद अली जिन्ना को लेकर देश में मचे बवाल के बीच इस मुद्दे पर अब राजा भैया का बयान आया है. उत्तर प्रदेश की अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर छिडे विवाद पर कुंडा विधायक राजा भैया ने कहा है कि कि ये देश का सबसे बड़ा दुर्भाग्य है कि एक यूनिवर्सिटी से जिन्ना की तस्वीर हटाने के लिए आन्दोलन करना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि मोहम्मद अली जिन्ना हिंदुस्तान के टुकड़े करने का अपराधी है.

राजा भैया ने जिन्ना की तस्वीर पर छिड़े विवाद पर कहा कि हमारे देश को आजादी मिले 70 साल हो गए हैं, हमारी 70 साल में यही उपलब्धि है कि हमें जिन्ना की फोटो हटाने के लिए आन्दोलन करने पड़ रहे हैं. राजा भैया ने कहा कि आजादी को 70 वर्ष हो गये हैं लेकिन शर्म आती है कि आजादी के 70 वर्ष बाद देश के सबसे बड़े दुश्मन रहे जिन्ना की तस्वीर हटाने के के लिए देश के युवाओं को सडकों पर उतरना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि ये स्थिति उन लोगों को आईना दिखाने वाली है, जो चीख चीख कर कहते है कि आजादी के बाद 70 वर्षों में देश ने काफी उपलब्धियां हासिल की हैं. उन्होंने कहा में देशवासियों से सिर्फ इतना कहना चाहता हूँ कि जिन्ना के साथ इन जिन्ना प्रेमियों का भी बहिष्कार जरूरी है.

गौरतलब है कि अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र संघ के कार्यालय में अलगाववादी नेता और पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना की फोटो लगी है, ये वही जिन्ना हैं जिन्होंने हमारे देश के तीन टुकड़े कराकर हिंदुस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश बना दिया. हिन्दुओं के हिस्से में सिर्फ हिंदुस्तान आया लेकिन यहाँ भी जिन्ना समर्थकों की फ़ौज खड़ी हो रही है, जिन्ना समर्थक अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना की फोटो लगाना चाहते हैं. इसी बात पर कटाक्ष करते हुए राजा भैया ने ये प्रतिक्रिया दी है, हिन्दू संगठन जिन्ना की फोटो का विरोध कर रहे हैं और हटाने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं जबकि अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के मुस्लिम छात्र जिन्ना की फोटो के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि जिन्ना के समर्थन में प्रदर्शन होने से अधिक शर्मनाक कुछ नहीं हो सकता है.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share