पहले बलात्कार किया फिर निकाह किया,,,उसके बाद निकाह नामंजूर….नीचता की हद पार कर देने वाले आक्रान्ता को आप भी जानें

उनकी बीभत्स व दुराचारी सोच का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है कि अब वो घर में घुसकर महिलाओं की आबरू लूटने लगे हैं. उन्हें संविधान, कानून की कोई परवाह नहीं होती हालाँकि फिर भी वो स्वयं को दुनिया की सबसे ईमानदार, शांतिप्रिय कौम बताते हैं. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के सहारनपुर से जुड़ा हुआ है जहाँ दबंगई के साथ घर में घुसकर एक युवती का बलात्कार किया गया.

खबर के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के कुतुबशेर थाना क्षेत्र के मोहल्ला मछरियान में एक युवती रात के समय अपनी छत से कपडे उठाने गयी थी तभी छत पर पड़ोसी शरीफ के पुत्र सजावर ने उसको छत पर ही दबोच लिया तथा उसके साथ बलात्कार किया. युवती के शोर मचाने पर युवती की के परिजन छत पर पहुँच गये तथा युवती को सजावर के चंगुल से छुड़ाया. सजावर ने भागने की कोशिश की लेकिन वो सफा नहीं हुआ तथा उसको मोहल्ले की भीड़ ने पकड लिया.

घर में घुसकर युवती से दुराचार की खबर सुनकर मोहल्ले में हलचल मच गयी तथा आरोपी सजावर के परिजन आदि भी इकट्ठे हो गये. जब बलात्कार पीडिता के परिजनों ने पुलिस बुलाने की बात कही तो तो सजावर के अब्बू शरीफ ने पुलिसिया कार्यवाही से बचने के लिए पीडिता के साथ सजावर के निकाह की बात कही जिस पर युवती के परिजन ने हामी भर दी तथा सजावर का निकाह उसके द्वारा दुराचार की शिकार युवती से करा दिया.

पुलिसिया कार्यवाही से बचने के लिए सजावार ने निकाह तो रचा लिया लेकिन निकाह के बाद युवती की विदाई से मना कर दिया. सजावार तथा उसके अब्बू शरीफ ने निकाह मानने से मना कर दिया व युवती को छोडकर अपने घर चले गये. इसके बाद युवती अपनी माँ के साथ थाने गयी तथा आपबीती सुनाते हुए सुजावर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. इंस्पेक्टर दीपक त्यागी ने बताया कि दुष्कर्म के आरोप में सुजावर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

Share This Post

Leave a Reply