मेरठ में जबरन कब्जे हुए शुरू.. जमीन को घोषित किया मकबरा और शुरू की नमाज. रोकने पहुंची जनता पर भीषण पत्थरबाजी

गुरुग्राम में नमाज/अजान के बहाने जमीन कब्जाने का मामला अभी शांत नहीं हुआ था कि अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ से नमाज के बहाने जमीन कब्जाने का मामला सामने आया है. जानकारी मिली है कि मेरठ में एक जगह को कुछ लोगों ने एक जमीन को मकबरा घोषित कर दिया तथा वहां नमाज पढ़ना शुरू कर दी. जब इस बात की जानकारी वहां की आम जनता तथा हिंदूवादी संगठनों को मिली तो इसका विरोध किया गया जिसके बाद नमाज पढ़ने वालों ने लोगों पर कश्मीरी अंदाज में भीषण पत्थरबाजी शुरू कर दी.

मामला मेरठ के शास्त्री नगर का है. बता दें कि रमजान की शुरुआत को मेरठ के शास्त्री नगर के सेक्टर 3 स्थित गोल मंदिर के पास मुस्लिम समुदाय के कुछ लोग एक जगह तथाकथित मकबरे पर इकठ्ठा हुए तथा वहां नमाज पढ़ने लगे. जानकारी मिलने पर स्थानीय नागरिक तथा हिंदूवादी संगठन के लोग पहुंचे तथा नमाज पढ़ने का विरोध किया कि अचानक गोल मंदिर के पास नमाज क्यों पढी जा रही है. इसके बाद नमाज पढ़ रहे लोग भड़क गये तथा पत्थरबाजी शुरू कर दी, जिसमें दो लोग घायल हो गये, जिसके बाद आसपास के लोग इकट्ठे हो गये व् क्षेत्र में तनाव उत्पन्न हो गया. जानकारी मिलने पर पुलिस पहुँची तथा हालातों को काबू में किया.

हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं तथा अन्य स्थानीय नागरिकों का कहना है कि यहाँ नमाज कभी नहीं पढी गयी तथा अचानक के अब नमाज की नई परम्परा शुरू की जा रही है जिसे नहीं होने दिया जायेगा. लोगों का कहना है कि अभी नमाज की शुरुआत की गयी है कल को ये जगह परमानेंट इनकी हो जायेगी और हम लोग इसी का विरोध कर रहे हैं. मौके पर पहुँची का भी कहना है कि यथास्थिति को बरकरार रखा जायेगा तथा नई परंपरा की शुरुआत नहीं होगी व् माहौल को ख़राब नहीं होने दिया जायेगा.

Share This Post