“मेरे अब्बा का साथ दो अखिलेश, मुसलमान तुम्हें अपना लेंगे” – ये शब्द एक दुर्दांत अपराधी के बेटे के हैं

उत्तर प्रदेश में समाजवादी की सरकार में चाहे मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव रहे हों या अखिलेश यादव, हमेशा से सपा सरकार पर अपराधियों, गुंडों को संरक्षण देने का आरोप लगता रहा है. और और कई ऐसी घटनाएँ हुई हैं जिससे ये साबित भी हुआ है कि सपा सरकार अपराधियों को न सिर्फ राजनैतिक बल्कि प्रशासनिक संरक्षण भी प्रदान करती है. और ये बात अपराधी भी जानते हैं कि सपा उनकी मदद अवश्य करेगी.

अतीक अहमद उत्तर प्रदेश की राजनीति का एक ऐसा ही नाम है जिसने अनेकों अपराध किये हैं, उसके बाद भी हमेशा उसको समाजवादी पार्टी से राजनैतिक संरक्षण प्राप्त होता रहा. ऐसा कोई अपराध नहीं है जो अतीक अहमद ने न किया हो, ऐसा कोई गलत कार्य नहीं हैं जो अतीक अहमद ने न किया हो. इस समय अतीक अहमद जेल में बंद है तथा जेल से ही फूलपुर लोकसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ रहा है. अखिलेश यादव ने भी अपने पिता का अनुसरण करते हुए घोर तुष्टीकरण की राजनीति ही की हालाँकि मुस्लिम समाज को उनसे इससे भी ज्यादा की उम्मीद थी.

अब जेल में बंद सपा के पूर्व सांसद अतीक अहमद के बेटे उमर अतीक ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव से कहा है कि अखिलेश यादव को उनके अब्बा अतीक अहमद का समर्थन करना चाहिए जिससे उनकी मुस्लिम विरोधी छबि बदलेगी. उमर अतीक इस बात को अच्छी तरह से जानते हैं कि अतीक अहमद जैसे अपराधी की मदद उसका समर्थन अखिलेश यादव अवश्य करेंगे. सिर्फ उमर अतीक ही नहीं बल्कि हर मुस्लिम समुदाय का व्यक्ति ये जानता है कि वो कितना ही गलत कार्य कर ले, कितनी भी गुंडागर्दी कर ले लेकिन समाजवादी पार्टी व अखिलेश यादव उनका साथ अवश्य देंगे देंगे.

उमर अतीक ने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव उनके पिता अतीक अहमद का समर्थन अवश्य करेंगे. अब देखना ये है कि अखिलेश यादव कब उमर अतीक की बात को समझकर उनका साथ देंगे व जैसा एक बार मुलायम ने भी कहा था कि अखिलेश को अपनी मुस्लिम विरोधी बन रही छबी बदलनी चाहिए हालाँकि अखिलेश की छबि हमेशा से एक तुष्टीकरण करने वाले नेता की ही रही है.

Share This Post

Leave a Reply