“तू उन्हें अब्बा मानती है तो क्या ? तेरा हलाला वही करेंगे वरना मरने के लिए तैयार हो जा”.. हलाला की ऐसी घटना शायद एकदम नई हो

इस प्रकार की घटनाये शायद ही समाज के आगे आ पाती रही हों . ये ऐसी घटना है जो शायद आप ने सुनी भी नहीं रही होगी . यद्द्पि पहले ऐसा नहीं हुआ होगा ऐसा नहीं कहा जा सकता क्योंकि लोकलाज अदि जैसे तमाम ऐसे मामले होते हैं जो कई महिलाओं को सब कुछ सह लेने और कहीं मुँह न खोलने के लिए मजबूर कर देते हैं . ज्ञात हो की भले ही सुप्रीम कोर्ट के साथ केंद्र सरकार बहुविवाह और निकाह-हलाला जैसे मामलो में संवेदनशील हो लेकिन आये दिन कोई न कोई कट्टरपंथी ऐसे मामलो को कर भी रहा है जो सीधे सीधे सत्ता और संविधान के साथ सुप्रीम कोर्ट तक को चुनौती माना जा सकता है . 

ज्ञात हो की निकाह हलाला की एक और पीड़िता की जान को खतरा है क्योकि उस को जान से मारने की धमकी मिल रही है।  इस बार पीड़िता का नाम है 27 वर्षीय फरजाना जिसे मार डालने की धमकी कोई और नहीं बल्कि खुद उसका शौहर दे रहा है .. इस धमकी के पीछे वजह ये है की उसका शौहर अपनी बीबी का हलाला ऐसे व्यक्ति से जबरन करवाने पर आमादा है जिसे वो अपने मुँह बोले अब्बा के रूप के हमेशा से मानती आई है .

ये घटना है उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की जहाँ मंगलवार को इंडियन वूमेंस प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बुलंदशहर की रहने वाली 27 वर्षीय फरजाना ने बताया कि 24 जुलाई को उसके पति का फोन आया, इस दौरान उसके पति ने उससे अपने मुंह बोले पिता से हलाला करने का सुझाव देते हुए, घर वापस आने को कहा। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार फरजाना का कहना है कि जब उसने हलाला के लिए इंकार किया, उसके पति ने उसे मार कर बोरे में बंद कर नदी में फेंकने की धमकी दी।   फरजाना के मुताबिक उसने यह बात अपने वकील को बताई, जिन्होंने उसे पुलिस में शिकायत करने की सलाह दी। फरजाना के वकील और सुप्रीम कोर्ट में एडवोकेट ऑन रिकॉर्ड विकास नारायण शर्मा ने बताया कि फरजाना ने बहु विवाह और निकाह-हलाला को असंवैधानिक करार देने की मांग वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की है, जिसकी 23 जुलाई को सुनवाई थी। 

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW