“मैंने तुम्हे पसंद किया था, न कि तुम्हारे मजहब को..मैं हिन्दू थी, हिन्दू हूँ और हिन्दू ही रहूंगी” बोलकर वो पहुँच गई थाने अपने ही पति के खिलाफ

मैंने तुमसे शादी की क्योंकि उस समय तुम हिन्दू थे. लेकिन अब तुम हिन्दू धर्म छोड़कर मुसलमान बन चुके हो तथा मुझे भी मुसलमान बनना चाहते हो तो सुन लो…मैं हिन्दू थी, हिन्दू हूँ और हिन्दू ही रहूंगी. मुझे हिन्दू होने पर गर्व है तथा मैं मर जाउंगी लेकिन अपना हिन्दू धर्म नहीं छोड़ सकती हूँ. मामला उत्तर प्रदेश के अमेठी का है जहाँ जबरन धर्म परिवर्तन कराने के लिए पत्नी पर दबाव बनाना एक युवक को महंगा पड़ गया. पुलिस ने उसकी पत्नी की तहरीर पर आरोपी पति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

खबर के मुताबिक़, अमेठी के शिवरतनगंज थाना क्षेत्र के गांव पूरे कादिल मजरे जुगराजपुर की रहने वाली मालती ने गुरुवार को थाने में तहरीर देकर बताया कि उसका पति राधेश्याम विदेश में नौकरी करता था. वहां से लौटने पर उसने बिना बताए अपना धर्म परिवर्तन कर लिया है. पत्नी ने बताया कि करीब 20 दिन पूर्व वह मुझे भी बहला-फुसलाकर जौनपुर जिले के बादशाही मारुफपुर शाहगंज ले गया और जबरन इस्लाम अपनाने का दबाव बनाने लगा. साथ ही नमाज पढ़ने का दबाव बनाया. जब धर्म परिवर्तन को राजी नहीं हुई तो मारा-पीटा और जान से मार डालने की धमकी देने लगा. किसी तरह अपनी चार साल की बेटी को लेकर भाग निकली और पूरे प्रकरण से अपने ससुरालीजनों को अवगत कराया.

पुलिस ने महिला की तहरीर पर पति पर संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की विवेचना उपनिरीक्षक संतोष कुमार मिश्रा को सौंपी गई है. हालांकि पुलिस नामजद आरोपी को अभी गिरफ्तार नहीं कर सकी है. थानाध्यक्ष संतोष कुमार सिंह ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पीड़ित महिला की तहरीर पर उसके पति राधेश्याम के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. पुलिस का कहना है कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा.

Share This Post