होली साल में 1 बार आती है और जुम्मा 52 बार तब होली खेलने का समय घटाया नहीं जा सकता…..जानिए होली व जुम्मा एक ही दिन पड़ने पर क्या बोले योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पूज्यश्री योगी आदित्यनाथ जी की छबि एक फायरब्रांड हिंदूवादी नेता की मानी जाती है. माना जाता है कि योगी आदित्यनाथ एक ऐसे नेता हैं जो कभी सिद्धांतों से समझौता नहीं करते थे. मुख्यमंत्री बनने के बाद भी योगी आदित्यनाथ जी ने अपनी छबि में कोई परिवर्तन नही किया है.

इस समय योगी जी गोरखपुर तथा फूलपुर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए प्रचार कर रहे हैं. नवाबगंज में एक सभा के दौरान योगी आदित्यनाथ जी ने एक बार फिर अपनी हिंदूवादी छबि परिचय दिया है. दरअसल इस बार होली तथा जुम्मा एक ही दिन था. योगी आदित्यनाथ ने भाषण में कहा कि होली व जुम्मा एक ही दिन होने के कारण अधिकारी शंकित थे. उन्हें डर था कि जुम्मे के दिन होली हिने के कारण कहीं कोई अनहोनी न हो जाये,

योगी जी ने कहा कि हमने अधिकारीयों  से पूंछा कि होली की तैयारियां कैसी हैं तो जवाब आया कि होली 11 बजे तक खत्म करवा देंगे उसके बाद जुम्मा हो जायेगा. मैनें अधिकारीयों  से कहा कि होली का समय कम नही किया जायेगा. होली साल में 1 बार आती है जबकि जुम्मा साल में 52 बार आता है तो होली का समय कम करने के बजाय जुम्मे का समय 2 घंटे क्यों नहीं बढ़ाया जा सकता. हजो त्यौहार साल में एक बार आता है उसका सम्मान सभी को करना होगा.

योगी जी बोले कि हमने अधिकारीयों से कहा कि नमाजियों से बातचीत कीजिये तथा उनसे कहिये कि जुम्मे का समय 2 घंटे आगे बढ़ाएं. उसके बाद जो हुआ सबने देखा. नमाजियों ने हमारी बात मणी व जुम्मे का समय आगे बढाया गया, होली धूमधाम से खेली गयी. इसके लिए में मुस्लिम समुदाय का भी धन्यवाद करता हूँ कि उन्होंने हमारी बात सूनी व बुद्धिमता का परिचय दिया.

Share This Post