अपना किया वादा पूरा कर रहे हैं योगी, सरकार ने दर्जनों अवैध बूचड़खानों पर गिरायी गाज

लखनऊ : यूपी के नए सीएम योगी आदित्यनाथ कमान संभालते ही एक्शन पर एक्शन ले रहे हैं। भले ही योगी अपने मंत्रियों को विभाग न बांट पाए हों लेकिन काम शुरू हो गया है। योगी आदित्यनाथ की सरकार बनते ही अवैध बूचड़खानों पर कार्यवाई और तेज हो गई है। पिछले दो दिनों के अंदर ही प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर दर्जनों अवैद बूचड़खानों को बंद कराया गया है। इसके अलावा रोमियो स्क्वॉड का भी गठन किया गया है। बता दें कि भाजपा ने विधानसभा चुनाव में इस दोनों मामलों को मुद्दा बनाया था।

बीजेपी के संकल्प पत्र में जो वादे किए गए थे योगी ने उन पर अमल का ऐलान कर दिया है। मंगलवार को संसद में अपने आखिरी भाषण में भी योगी ने अपने इरादे जाहिर कर दिए। योगी ने सदन के सामने कहा कि यूपी में अब बहुत चीजों की बंदी होने वाली है। बता दें कि मंगलवार को गाजियाबाद में 15 स्लॉटर हाउस बंद कराए गए। पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए कैला भट्टा इलाके के दर्जनभर अवैध बूचड़खानों को बंद करवा दिया। बूचड़खाने बंद होने से इनसे जुड़े लोग बेरोजगार हो गए हैं। वे इस कार्रवाई के खिलाफ बवाल कर सकते हैं, इसलिए वहां भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया है।

वाराणसी के जैतपुरा में भी एक बूचड़खाने को बंद किया गया है। आगरा में दो बूचड़खाने हैं, जिनमें से एक नगर निगम का है तो दूसरा बीएसपी के पूर्व विधायक का निजी बूचड़खाना है। आजमगढ़ में भी अवैध रूप से चल रहे तीन बूचड़खानों को सील कर दिया गया है। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा सरकार के गठन के दो दिन बाद ही यह घटनाक्रम सामने आया। उन्होंने दावा किया कि 2012 में बूचडखाना बंद कर दिया गया था लेकिन वहां गुप्त तरीके से काम चलता रहा।

Share This Post