8 साल बच्चे का गला रेतते समय उफ तक नही किया सरफ़राज़ ने.. पैरों से दबा रखा था शरीर, हाथों में थी ब्लेड

यदि आज आशंका में है भारत मे पनपने वाली ISIS जैसी क्रूर मानसिकता से तो आप गलत हैं, उस से भी क्रूर मानसिकता आज भी घर कर चुकी है कुछ ऐसे क्रूर लोगों में जिनके कारनामे सुन कर पत्थर दिलों के भी दिल दहल जायेगे.. एक ऐसा कुकृत्य हुआ है उत्तर प्रदेश में जहां एक 8 साल के मासूम के जीवन को खत्म करने का प्रयास किया गया है ठीक तालिबानी अंदाज़ में..

जहानागंज थाने के एक गांव में गुरुवार की शाम को आठ साल के मासूम बच्चे को गांव का ही एक युवक बहला-फुसला कर बाजार ले गया और वापस आते समय रास्ते में एक नलकूप पर ले जाकर गला रेत डाला। उसकी मौत समझ कर युवक भाग निकला। लहूलुहान बच्चे की हालत गंभीर होने पर परिजनों ने देर रात में जिला अस्पताल में भर्ती कराया। घटना का कारण आरोपी युवक का बच्चे के मौसेरी बहन से नाजायज संबंध बताया जा रहा है. परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने शुक्रवार को आरोपी युवक के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया है ।

मऊ जिले के मोहम्मदाबाद गोहना कोतवाली के एक गांव का निवासी आठ वर्षीय किशोर की मौसी का घर जहानागंज थाने के एक गांव में है। किशोरी अपने मौसी के घर पर ही रह कर कक्षा दो में पढ़ता है। जबकि उसका मौसा मुंबई में रहता है। घर पर गांव का ही एक युवक अक्सर आ कर बैठता था। वह गुरुवार की शाम को आठ वर्षीय बालक को बहला-फुसला कर बाजार में ले गया और वापस आते समय सुनसान स्थान पर ले जाकर मफलर से गला दबा दिया और ब्लेड से गला रेत दिया। बच्चे के अचेत हो जाने पर युवक मृत समझ कर भाग निकला। होश आने पर लहूलुहान बच्चे के चीखने पर आस-पास के लोग पहुंच गए और उसे उठा कर उसके मौसी के घर ले गए। हालत गंभीर देख ग्रामीणों ने गुरुवार की रात लगभग नौ बजे उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। सूचना मिलने पर गुरुवार को जिला अस्पताल में पुलिस ने बच्चे का बयान लिया और मुकदमा दर्ज किया।

इस मामले पर जहानागंज थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने बताया कि बच्चे के मौसी की विवाहिता पुत्री के साथ गांव का ही एक युवक का चक्कर था। परिजनों ने युवक को डाट-फटकार कर भगा दिया था और विवाहिता पुत्री को ससुराल के लिए विदा कर दिया था। इससे गुस्से में आकर युवक ने बच्चे का गला ब्लेड से रेत दिया। बच्चे की मौसी की तहरीर पर सरफराज पुत्र निजामुद्दीन के खिलाफ 307 का मुकदमा दर्ज कर तलाश की जा रही है।


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share