Breaking News:

शर्मा जी की 3 साल की बेटी के हाथों और पैरों को को काटा, फिर जला कर फेंक दिया भूसे में. वो दरिन्दे जाहिद और असलम हैं.. #JusticeForTinkle

कोई दानव भी जितना सोच सकता है उस से भी ज्यादा दरिंदगी दिखाई गई है हत्यारों द्वारा .. उन्होंने एक मासूम बच्ची के साथ वो किया जो किसी के भी रोंगटे खड़े कर देने के लिए काफी है . जल्लादों को भी पिछाड दिया है उन शैतानो के जिनके लिए कानून से मिली मौत की भी सजा शायद एक आम नागरिक को कम लगे .. अभी दुनिया को भी न समझ पाने वाली उस मासूम का दोष केवल इतना था कि उसके पिता ने उन दरिंदो से पैसे का लेन देन किया था  ..

अचानक ही नारी सम्मान और बेटियों के लिए शोर मचाने वाले वो सभी लोग खामोश हो गये हैं .. क्या केवल इसलिए कि इस घटना में हत्यारों के नाम जाहिद और असलम है ? सिर्फ 3 साल की बच्ची. आरोप है कि दरिंदों ने पहले उसके हाथ पैर काटे. फिर उसके शव को जलाने की कोशिश की. बाद में उसके अधजले शव को कूड़े के ढेर में फेंक दिया. जहां जंगली जानवर और कुत्ते उसके शव को नोच-नोचकर खाते रहे. तीन-चार दिन बाद बच्ची का शव मिला तो लोगों में आक्रोश फैल गया.

सीओ खैर पंकज श्रीवास्तव ने बताया कि 2 जून की सुबह तीन दिन से लापता बच्ची टिंकल का शव मिलने के बाद से एसएसपी के निर्देश पर एसओजी, सर्विलांस, फील्ड यूनिट, थाना पुलिस घटना के खुलासे में लगी हुई थीं। पुलिस टीमों द्वारा परिजनों से पूछताछ व साक्ष्य संकलन के आधार पर मृत बच्ची के मोहल्ले से सटे कस्बे के ही मोहल्ला ऊपरकोट के जाहिद व उसके दोस्त असलम निवासी कानूनगोयान के नाम सामने आए। सीओ के अनुसार दोनों को अपहरण, हत्या व साक्ष्य छिपाने के आरोप में जेल भेज दिया गया है।

इन दोनों में जाहिद पर पूर्व में भी दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज है। इस घटना को लेकर टप्पल क्षेत्र ही नही बल्कि पूरे अलीगढ जिले के कई कस्बों और गांवों में भारी गुस्सा दिखाई दे रहा है . ग्रामीण और बच्ची के परिजन टप्पल थाने का घेराव करने पहुंच गए. कुछ लोगों ने और किसान संगठनों ने यमुना एक्सप्रेस वे घेरने का ऐलान कर दिया. बाद में अलीगढ़ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने सभी को समझाया. और भरोसा दिलाया कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. जल्द ही उनके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी.

 

 

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW