बीबी ने अपने पति को अपने साथ हुए दुष्कर्म में भेजा जेल.. विरले मामले आते हैं ऐसे…

क्या शादी करने से व्यक्ति को जबरदस्ती छूने का हक़ मिल जाता है, क्या महिलाओं का अपना कोई वजूद नहीं होता, क्या प्यार की एक गलती से उसे ज़िंदगी

भर भुगतना करना पड़ेगा। दरअसल, हम बात कर रहे है उन पीड़ितों की जो प्यार में भरोसा तो कर लेती है लेकिन उन्हें इस बात की खबर नहीं होती की वह पवित्र

बंधन में बंधने नहीं बल्कि महज उसकी हवस का शिकार बनने जा रही है।

प्यार की आड़ में झूठे वादे करने वाला लोग, अपनी गन्दी मानसिकता के आगे इंसानियत भूल जाते है।

ऐसी ही एक घटना पंजपीर नगर रोड निवासी पीड़ित महिला

की है, जहां उसके पति ने खर्चा भरने का भरोसा दिलाकर उसके साथ दुष्कर्म जैसी घिनौनी घटना को अंजाम दिया। पीड़िता ने न्याय के लिए जब पुलिस से गुहार

लगायी तो पुलिस दुष्कर्म के आरोपों पर एफआईआर दर्ज कर, पति को काबू कर एक दिन के रिमांड के पश्चात अदालत की सुनवाई पेश किया गया, जिसके बाद

उसे जेल भेज दिया गया है।

जानकारी के अनुसार, नगर थाना के प्रभारी गुरमीत सिंह को दिए बयानों में पीड़ित महिला ने बताया कि 9 वर्ष पूर्व सोहन सिंह पुत्र हरबंस सिंह जट वासी दानेवाला

सतकोसी उसके साथ शादी करवाकर उसके साथ रहने लगा।

कुछ वर्ष साथ रहने के बाद उनकी आपस में लड़ाई-झगड़े होने लगे। लड़ाई झगडे इस कदर बड़ गए की

सोहन सिंह ने पीड़िता को छोड़ दिया, जब पीड़िता को अकेले अपने घर का खरचा संभालना मुश्किल हो गया तो, पीड़िता ने अपने खर्चे के लिए अदालत में एक

याचिका दायर की।

उसने बयान दिया कि सोहन सिंह 2 दिन पहले उसके घर आया और उसने 4,000 रुपए खर्चा भरने का भरोसा दिया। इसी दौरान उसने उसकी मर्जी के खिलाफ

उससे दुष्कर्म किया। बता दे पुलिस ने पीड़िता द्वारा लगाए आरोपों की पुष्टि के लिए पीड़िता का पहले मैडीकल करवाया, इसके बाद सोहन सिंह के खिलाफ मामला

दर्ज किया। सोहन सिंह को एक दिन के रिमांड के पश्चात सब-डिवीजन के सीनियर न्यायाधीश अमरीश कुमार की अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे जेल

भेज दिया गया है।

Share This Post

Leave a Reply