Breaking News:

100 दिन में उन अधिकारियों के दुर्दिन आने शुरू हो गए जो नहीं दे पा रहे थे बेहतर परिणाम

अपने 100 दिनों के कार्यकाल के बाद बेहतर परिणाम न देने वाले अधिकारियों पर योगी सरकार ने गाज गिराने का सिलसिला शुरू कर दिया है। योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को 25 आईएएस अधिकारियों का तबादला कर दिया। अनीता भटनागर जैन को अपर मुख्य सचिव (आयुष विभाग) के पद से मुक्त कर दिया गया है। अब उनके पास अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा का कार्यभार है। आजमगढ़ के एस.के. दीक्षित को मंडलायुक्त से स्थानांतरण निरस्त करते हुए सचिव (आयुष विभाग) बनाया गया है। 
इसी तरह ग्राम विकास के लिए अनुराग श्रीवास्तव प्रमुख सचिव बनाए गए हैं। लोक निर्माण विभाग के लिए राजशेखर को विशेष सचिव की जिम्मेदारी दी गई है, जबकि परिवहन आयुक्त के रवींद्र नायक को हटाया गया है और आजमगढ़ मंडल में के.रवींद्र नायक को वहां का आयुक्त बनाया गया है। पी. गुरु प्रसाद परिवहन विभाग के नए आयुक्त होंगे। राज प्रताप सिंह कृषि उत्पादन आयुक्त बनाए गए हैं। राज प्रताप को भूतत्व, खनिकर्म, बेसिक शिक्षा का भी प्रभार दिया गया है।
कुमार कमलेश प्रमुख सचिव (माध्यमिक शिक्षा), संजय अग्रवाल अपर मुख्य सचिव (नगर विकास), मुकुल सिंघल को प्रमुख सचिव (रेशम हथकरघा) और उच्च शिक्षा का भी अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। संजीव सरन को अपर मुख्य सचिव (नियोजन) बनाया गया है, जबकि रेणुका कुमार को प्रमुख सचिव (वन, पर्यावरण) का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।रिग्जियान सैम्फिल अपर मुख्य परियोजना निदेशक (विश्व बैंक) और मुख्यमंत्री के विशेष सचिव पद पर यथावत तैनात रहेंगे। 
Share This Post