पत्नी के अलावा किसी और के साथ उस संबंध में मिला पति तो कानून करेगा अपना काम… योगी सरकार का ऐतिहासिक निर्णय

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूबे की राजधानी लखनऊ में कल तीन तलाक पीड़िता मुस्लिम महिलाओं से मुलाक़ात की. इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक ऐसा एलान किया है, जिससे हिन्दू महिलायें भी खुशी से झूम उठी हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने एलान कर दिया है कि पहली पत्नी के होते हुए दूसरी शादी करने वाले हिन्दुओं के खिलाफ भी कड़ी कार्यवाई की जायेगी. योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अब सूबे में पहली पत्नी के होते हुए पुरुष दूसरी शादी नहीं कर सकेगा.

मोदी सरकार द्वारा तीन तलाक को जुर्म घोषित करने और सजा मुकर्रर करने संबंधी कानून बनाकर मुस्लिम महिलाओं के हक में बड़ा कदम उठाने के बाद अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बिना तलाक की छोड़ दी गई हिंदू महिलाओं को इंसाफ दिलाने और इस दिशा में कानून बनाने का बीड़ा उठाया है. योगी आदित्यनाथ ने ट्रिपल तलाक से पीड़िता महिलाओं से बुधवार को संवाद करते हुए कहा कि हिंदू परित्यक्त महिलाओं को भी ऐसा ही न्याय दिलाया जाएगा. सीएम योगी ने कहा कि एक शादी कर दूसरी महिला को रखने वाले हिंदू पुरुषों को दंडित करने का कानून बनाया जाएगा.

देखा जाए तो बिना तलाक के इन परित्यक्ता महिलाओं के हालत काफी दयनीय है. ये महिलाओं के दर दर के ठोकरे खाने के लिए मजबूर हैं. इन्हें अपने ससुराल और मायके दोनों जगह मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. इन महिलाओं को पति के रहते हुए भी दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसी महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए योगी सरकार आगे आई है. सीएम योगी ने कहा है कि कई हिन्दू एक शादी होते हुए भी दूसरी पत्नी को रखते हैं, ऐसे हिन्दुओं के खिलाफ भी कार्यवाई की जायेगी. सरकार जल्द ही बिना तलाक के छोडी गईं या शोषण की जा रही महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए कानून बनायेगी.

इस दौरान सीएम योगी ने तीन तलाक पीड़िता महिलाओं के लिए कई बड़ी घोषणाएं कीं. इनमें सबसे अहम ये है कि यूपी सरकार जल्द ही तीन तलाक पीड़िताओं को 6,000 रुपए सालाना अनुदान देने की योजना लाएगी. ये अनुदान उन्हें न्याय मिलने तक जारी रहेगा. यही नहीं पढ़ी-लिखी पीड़ित महिलाओं के लिए नौकरी की भी व्यवस्था की जाएगी. -वक्फ की संपत्ति में भी उन्हें लाभ देने की योजना लाई जाएगी. इसके अलावा अगर ऐसी महिला के पास घर नहीं है तो उन्हें आवास देने, उनके बच्चों की पढ़ाई, स्कॉलरशिप और आयुष्मान योजना के तहत स्वास्थ्य कवर भी दिया जाएगा. ये लाभ उन हिन्दू महिलाओं को भी मिलेगा, जिन्हें उनके पतियों ने छोड़ दिया है तथा दूसरी शादी कर ली है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW