Breaking News:

Women T-20 World Cup जीतने को तैयार भारत की बेटियां.. कप्तान हरमनप्रीत ने कही ये बात


ऑस्ट्रेलिया में अगले महीने से शुरू होने वाले Women T-20 World Cup को जीतने के लिए भारत की बेटियों ने कमर कस ली है. भारतीय महिला क्रिकेट टीम  की कप्तान तथा आक्रामक बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर ने कहा है कि उनकी टीम ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन के लिए तैयार है. इस बीच कप्तान हरमन ने टीम की कमजोरियों पर भी बात की है. हरमनप्रीत कौर ने कहा है कि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले महिला टी20 विश्व कप में दबाव का सामना करना ही सफलता की कुंजी होगा जो उनकी टीम पिछले दो विश्व कप में नहीं कर सकी थी.

इंग्लैंड और विश्व कप के मेजबान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ त्रिकोणीय सीरीज के लिए रवाना होने से पहले पत्रकारों से बातचीत में हरमनप्रीत ने यह बात कही. बता दें कि भारतीय टीम पिछले टी20 विश्व कप और वनडे विश्व कप से सेमीफाइनल में बाहर हो गई थी. भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत ने कहा कि हम पिछले दो विश्व कप में काफी करीब पहुंचे लेकिन हमें दबाव का सामना करना सीखना होगा. हम पिछले दो विश्व कप में ऐसा नहीं कर सके थे.

हरमनप्रीत ने कहा कि इस बार हम अधिक दबाव लेने की बजाय अपने खेल का मजा लेना चाहते हैं. हम यह सोचकर नहीं खेलेंगे कि यह बड़ा टूर्नामेंट है. हमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना है लेकिन दबाव नहीं लेना. हरमन ने कहा कि उनकी टीम हर चुनौती को फतह करने के लिए तैयार है. बता दें कि महिला टी20 विश्व कप ऑस्ट्रेलिया में 21 फरवरी से आठ मार्च तक खेला जाएगा. भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, न्यू जीलैंड और श्रीलंका से ग्रुप चरण में होगा.

हरमनप्रीत ने कहा कि टीम को दबाव के बारे में सोचने की बजाय अपने हुनर को निखारने पर फोकस करना होगा. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ विश्व कप में हम बड़ा टूर्नामेंट खेलने का काफी दबाव लेते आए हैं. इस बार हमें यह नहीं सोचना है कि यह बड़ा टूर्नमेंट है. हमें अपने हुनर पर फोकस करना है कि हम कैसे खेले और जीते. शेफाली वर्मा और रिचा घोष जैसे नए खिलाड़ियों को संदेश के बारे में पूछने पर हरमनप्रीत ने कहा कि उन्हें अपना स्वाभाविक खेल दिखाना चाहिए. दबाव लेने की जरूरत नहीं है क्योंकि हम दबाव के बिना खेलेंगे तो अपना सौ फीसदी दे सकेंगे. हम विश्व कप से पहले यह त्रिकोणीय सीरीज खेल रहे हैं जिससे तैयारी में काफी मदद मिलेगी.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share