सेक्यूलर भारत के क्रिकेट में भी घुसा पाकिस्तानी धर्म.. लिए गये हिंदू और मुसलमान के नाम


इस समय दुनिया पर क्रिकेट का बुखार चढ़ा हुआ है तथा दुनिया की दिग्गज टीमें इंग्लैंड में ICC क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतने के लिए ताल ठोंक रही हैं. आज इस समय जब हम इस खबर को लिख रहे हैं तब तक विश्वकप सेमीफाइनल की सभी 4 टीमों की बर्थ लगभग पक्की हो चुकी हैं. भारत, ऑस्ट्रेलिया तथा इंग्लैंड पूरी तरह सेमीफाइनल में पहुंच चुके हैं तो चौथी जगह के लिए न्यूजीलैंड भी लगभग क्वालीफाई कर चुका है लेकिन इसके लिए पाकिस्तान तथा बंगलादेश के आख़िरी लीग मैच के परिणाम का इन्तजार है, जिससे शायद ही कोई फर्क पड़े.

4 जुलाई: पुण्यतिथि हिंदुत्व के अमर स्तम्भ स्वामी विवेकानंद जी.. स्वामी जी ने कहा था- एक हिन्दू का धर्मांतरण एक शत्रु का बढ़ना है

बवाल यहीं से शुरू हुआ है कि अपने ख़राब प्रदर्शन के कारण पाकिस्तान सेमीफाइनल में जगह बनाने से लगभग चूक चुका है. भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मुकाबला एक खेल ना होकर जंग की तरह होता है.  क्रिकेट के मैदान पर खिलाड़ी तो मैदान के बाहर प्रशंसकों के लिए ये मुकाबला किसी जंग से कम नहीं होता. जहां एक तरफ भारतीय टीम का सेमीफाइनल का रास्ता साफ है लेकिन वहीं पाकिस्तान की टीम भारत की इंग्लैंड पर जीत पर काफी हद तक निर्भर थी लेकिन भारत को इंग्लैंड को हाथों हार का सामना करना पड़ा.

अब उन्मादियों को जमीन सुंघा देने के मूड में मेरठ पुलिस.. उठा लिए 43 उन्मादी, भेजे गये जेल

भारत की इंग्लैंड से हुई हार के बाद पाकिस्तान की सेमीफाइनल में डगर मुश्किल हुई तथा इंग्लैंड के हाथों न्यूजीलैंड की हार के बाद ये लगभग तय हो गया है कि पाकिस्तान सेमीफाइनल में नहीं पहुँच पायेगा. इसके बाद  पाकिस्तान के फैन भारतीय टीम पर बुरी तरह से भड़के हुए हैं तथा भारत पर जानबूझकर हारने का आरोप लगा रहे हैं. पाकिस्तान की बौखलाहट यहीं  तक नहीं रुकी बल्कि पाकिस्तान ने क्रिकेट में धर्म को भी घुसेड़ दिया है तथा खिलाड़ियों को हिन्दू और मुसलमान में बांटने की कोशिश की.

2 साल तक हर दिन बलात्कार के बाद बलात्कार के बाद पूंछता था मुज्जफर लतीफ़, बोल बनेगी मुसलमान.. मना करने पर फिर होता था बलात्कार

दरअसल आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 में भारतीय टीम ने अपनी गेंदबाजी से सबको आकर्षित किया है. इस वर्ल्ड कप की बेस्ट बॉलिंग अटैक टीम इंडिया के पास है. भुवनेश्वर कुमार के नहीं खेलने के बावजूद जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी ने अपना प्रभाव छोड़ा है. स्पिन अटैक में यजुवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने हर मौके पर भारत को विकेट निकाल कर दिया है. इस बीच एक पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर ने अजीबोगरीब बयान दिया है. दरअसल, इंग्लैंड के खिलाफ भारत की हार से बौखलाया पाकिस्तान शमी की धार्मिक पहचान में सुकून खोज रहा है. पाक के पूर्व क्रिकेटर सिकंदर बख्त ने कहा कि भारत के स्ट्राइक बॉलर विकेट नहीं ले पा रहे हैं. शमी ने अपना काम कर दिया है, अच्छी बात है कि वह मुसलमान हैं.

कांग्रेस के नामी नेता ने जायरा वसीम से पूछा वो सवाल जिसके बाद बवंडर उठना माना जा रहा तय

एक पाकिस्तानी चैनल के डिबेट के दौरान सिकंदर बख्त ने कहा, ‘भारत के पास बेस्ट बॉलिंग अटैक है. बुमराह नंबर-1 गेंदबाज हैं, लेकिन विकेट नहीं ले पा रहे हैं. चहल भारत के विकेट टेकिंग बॉलर हैं पर उन्हें भी विकेट नहीं मिल रहा है. शमी ने अपना काम कर दिया है और अच्छी बात ये है कि वह मुसलमान हैं. मैंने भारत की गेंदबाजी देखी है. उनके स्ट्राइक बॉलर विकेट नहीं ले पा रहे हैं. इंग्लैंड के बल्लेबाज उन्हें आसानी से हिट कर रहे थे लेकिन शमी ने विकेट लिए, वह मुसलमान है.”

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...