सचिन तेंदुलकर ने कहा- मैं बनना चाहता था ये, और बन गया बल्लेबाज़

सचिन
के जन्मदिवस पर जानें उनके बारे में ये खास बाते-

दुनिया
भर में अपना नाम करने वाले सचिन तेंदुलकर आज
44
साल के हो गए हैं। सचिन तेंदुलकर का जन्म
24
अप्रैल सन्
1973 को दिन में एक बजे मुंबई के निर्मल
नर्सिंग होम में हुआ था। उस वक्त उनका वजन
2.85 किलोग्राम
था। केवल
16 वर्ष की उम्र में अंतरराष्ट्रीय
क्रिकेट मे रखने वाले इस बल्लेबाज़ ने ऐसे कीर्तिमान रच डाले की उन्हें
क्रिकेट के भगवानका दर्जा दे दिया गया।

दरअसल, सचिन तेंदुलकर तेज गेंदबाज बनने की
ख्वाहिश रखते थे। तभी तो वे मुंबई से चेन्नई एमआरएफ पेस एकेडमी गए। वहां पूर्व
ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज डेनिस लिली ने उनकी चाहत को खारिज कर दिया। और उन्हें
सलाह दी कि तुम बल्लेबाजी पर अपना ध्यान लगाओ। सचिन ने उनकी बात को माना  और 
यहीं से सचिन के क्रिकेट जीवन की शुरुआत होती है और सचिन  दुनिया के मास्टर ब्लास्टर बन जाते है।

 सचिन के जीवन से जुडीं कुछ खास बातें –

*  महज 12 वर्ष की उम्र में अंडर-17 हैरिस शील्ड में अपने स्कूल की ओर से
खेलते हुए शतक लगाया।

*  जब 14 साल के हुए तो विनोद कांबली के साथ 664 रनों की पार्टनरशिप की।

*  15 वर्ष की उम्र में तत्कालीन बंबई के लिए फर्स्ट क्लास में डेब्यू
करते हुए शतक जमाया।

*  16 साल के हुए तो पाकिस्तान के खिलाफ कराची (1989) में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया।

* 17 वर्ष की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में
अपना पहला शतक जमाया और इंग्लैंड के खिलाफ
1990 का
ओल्ड ट्रैफर्ड टेस्ट हार से बचा लिया।

*  वर्ष 2000 में 50 इंटरनेशनल शतक बनाने वाले सचिन पहले बल्लेबाज रहे।

*  2003 वर्ल्ड कप में 673 रन बनाए, जो वर्ल्ड कप के इतिहास में सर्वाधिक
रनों का रिकॉर्ड रहा।

*  2008 में टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने के
मामले में ब्रायन लारा को पीछे छोड़ा।

* 2009 में 14,000 टेस्ट रन,
30,000
इटरनेशनल रन और
90 अंतरराष्ट्रीय शतक पूरे कर लिये।

*  36 साल का होने पर वनडे इंटरनेशनल का पहला दोहरा शतक जमाया।

*  दिसंबर 2012 में वनडे से रिटायर होने से पहले सचिन
ने
100 इंटनेशनल शतकों का अद्भुत रिकॉर्ड
अपने नाम किया।

*  नवंबर 2013 में उन्होंने अपने घरेलू मैदान
वानखेडे़ स्टेडियम में
200वां टेस्ट खेलकर क्रिकेट को अलविदा कह
दिया।

 

 

Share This Post