देश के सैनिको के बलिदान पर कभी रोने भी न वाले केरल के एलेक्स अर्जेंटीना की हार पर निकल पड़े मौत को गले लगाने

आये दिन राष्ट्र अपने सैनिको का बलिदान देख रहा है . खुद केरल की सरकार और विपक्ष में बैठी कांग्रेस आरोप लगाती है की पिछले ४ सालों में हर बार से ज्यादा सैनिक बलिदान हुए हैं .. इसके साथ ही कभी कभी ट्रेन हादसे जैसे मामले हो जाय करते हैं जिसमे कई लोग काल के गाल में पहुंच जाते हैं .. ऐसी ह्रदय विरादक घटनाओं से जहा समाज एक एक बड़े वर्ग का हृदय विदीर्ण होता है तो वहीं इसी समाज का एक छोटा सा वर्ग ऐसा भी है जिसे इन बातों से कोई मतलब नहीं है . उसने अपने जीवन को विदेशी मामलो के अधीनस्थ कर रखा है जिसमे मौत को गले लगाने के लिए विदेशी टीम की विदेशी टीम से हुई खेल में हार तक ही काफी है . ऐसा ही मामला आया है केरल से . 

मिल रही जानकारी के अनुसार केरल में रहने वाले एक फ़ुटबाल प्रशासक ने फीफा विश्व कप 2018 में क्रोएशिया के खिलाफ अर्जेंटीना को मिली करारी हार से इस कदर दुखी हो गया है की उसने आत्महत्या तक करने का फैसला कर डाला है . मैच देखने के बाद जैसे ही अर्जेंटीना हारा वैसे ही बुरी तरह से निराश हुआ एलेक्स मैच के बाद वह लापता हो गया। अर्जेंटीना के इस भारतीय प्रशंसक ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें उसने लिखा है कि उसके जीवन में आगे कुछ नहीं रह गया है। इस फ़ुटबाल प्रशंसक की तलाश के लिए जहाँ उसके परिवार वाले दिन रात एक कर चुके हैं वहीँ पुलिस का भी अभियान जारी है। क्रोएशिया ने गुरुवार रात खेले गए फीफा विश्व कप के ग्रुप डी के मैच में अर्जेंटीना को 3-0 से हरा दिया था . 

प्रशंसक के लापता होने की खबर मिलने के बाद पुलिस की गोताखोरों की एक टीम और स्थानीय निवासियों ने शुक्रवार को मीनाचिल नदी में खोज की। एक पुलिस अधिकारी ने नाम नहीं जाहिर करने की शर्त पर आईएएनएस से कहा, परिजनों ने बताया कि 30 साल के डीनू एलेक्स को आखिरी बार फीफा विश्व कप का मैच देखते हुए देखा गया था। इसके बाद वह सुबह चार बजे से लापता है। अधिकारी ने कहा, ‘तलाशी के बाद एक सुसाइड नोट बरामद हुआ, जिसमें लिखा हुआ था कि वह दुनिया छोड़कर जा रहा है क्योंकि उसके पास अब आगे देखने के लिए कुछ नहीं रह गया है।’ एलेक्स के करीबी रिश्तेदार ने आईएएनएस को बताया कि वह मेसी का बहुत बड़ा प्रशंसक था और उसके मोबाइल फोन के वॉलपेपर पर भी मेसी का ही फोटो है। उन्होंने बताया, गुरुवार को एलेक्स विश्व कप में मेसी द्वारा पहनी गई एक टी-शर्ट अपने लिए खरीद कर लाया और उसे पहनकर मैच देखने चला गया। सुबह चार बजे जब उसकी मां उसके खाने के लिए कुछ बनाने आई, तो उन्होंने किचन के पीछे का दरवाया खुला पाया और तुरंत अपने पति को बुलाया।’ दोनों ने एलेक्स को खोजा और उसे लापता पाया। इसके बाद पुलिस को जानकारी दी गई। पुलिस मामले की जानकारी मिलने के बाद खोजी कुत्ते के साथ पहुंची। कुछ गोताखोरों ने नदी में तलाश की लेकिन एलेक्स का शव बरामद नहीं हुआ। एलेक्स अविवाहित था और निजी कंपनी में अकाउंटेंट का काम करता था। 

Share This Post