जानिए क्यों भारत के पूर्व क्रिकेटर ने धोनी की क्षमता पर उठाए सवाल?

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने महेंद्र सिंह धोनी के प्रदर्शन पर संदेह जताया है। गांगुली का कहना है कि मुझे इस बात पर संदेह है कि धोनी अच्छे टी-20 खिलाड़ी हैं। वह एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय को चैंपियन खिलाड़ी हैं लेकिन टी20 क्रिकेट में 10 साल में उन्होंने सिर्फ एक अर्धशतक जड़ा है और यह सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड नहीं है।
गांगुली ने कहा कि मैं चैम्पियंस ट्रॉफी के लिए धोनी को चुनूंगा लेकिन उसे रन बनाने होंगे। आपको बता दे की धोनी आईपीएल में पुणे टीम की ओर से खेल रहे हैं और अगर हम अब तक के सारे मैच देखें तो धोनी ने काफी फिके रन बनाऐ हैं। तीन मैचों में धोनी का स्कोर क्रमशः 12 रन; नाबाद 5 और 11 रन रहा है। 
इसके बवाजूद गांगुली ने धोनी को शानदार वनडे क्रिकेटर बताते हुए कहा कि चैपियंस ट्रॉफी में उनको नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है, लेकिन उन्हें रन बनाने होंगे।  इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने भी गांगुली के बयान पर सहमति जताते हुए कहा कि धोनी को बल्ले से रन बनाने होंगे। बता दें कि गांगुली के इस बयान के बाद धोनी के कुछ फैंस उनकी आलोचना कर रहे हैं।
जानकारी के मुताबिक, इससे पहले आईपीएल टीम राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स के मालिक के भाई हर्ष गोयनका ने भी धोनी पर निशाना साधा था। जिसके बाद धोनी के फैंस को यह रास नहीं आया और गोयनका को धोनी के फैंस ने खूब झाड़ा।  एक ट्विटर यूजर्स ने गोयनका को किसी भी आईपीएल टीम का सबसे खराब मालिक करार दिया। जबकि कुछ फैंस ने गोयनका को कहा कि अगर धोनी से कुछ दिक्कत है तो कायर मत बनिए और उनसे बात कीजिए।
Share This Post