Breaking News:

Ranji Trophy: 22 वर्षीय सरफराज ने रचा इतिहास.. सहवाग स्टाइल में छक्के के साथ ठोंका तिहरा शतक


मुंबई टीम के 22 वर्षीय युवा बल्लेबाज सरफराज खान ने रणजी ट्रॉफी में उत्तर प्रदेश के खिलाफ खेलते हुए इतिहास रच दिया है. सरफराज खान ने उत्तर प्रदेश के खिलाफ हुए इस मुकाबले में बेहतरीन बल्लेबाजी का नमूना पेश करते हुए तिहरा शतक जड़ दिया. बड़ी बात ये थी कि सरफराज ने ये तिहरा शतक टीम इंडिया के पूर्व आक्रामक सलामी बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग की स्टाइल में छक्का मारकर पूरा किया. मुंबई और उत्तर प्रदेश के बीच खेला गया मैच ड्रा पर खत्म हुआ लेकिन पहली पारी में बढ़त लेने के कारण मुंबई को 3 अंक हासिल हुए.

उत्तर प्रदेश के कप्तान ने पहली पारी 8 विकेट पर 625 रन पर पारी घोषित की. इसके जवाब में मुंबई ने बुधवार को मैच के चौथे दिन 7 विकेट पर 688 रन बनाकर पारी घोषित की. पहले बल्लेबाजी करते हुए उत्तर प्रदेश की टीम की तरफ से उपेन्द्र यादव ने शानदार 203 रन, अक्षदीप नाथ ने 115, आरके सिंह ने 84 रन बनाये. जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी मुंबई की टीम ने सात विकेट पर 688 रन बनाए और पारी घोषित की जिसके बाद मैच ड्रा पर खत्म हुआ. मुंबई की तरफ से सरफराज खान ने सर्वाधिक नाबाद 301 रन बनाए, सरफराज के अलावा हार्दिक तमोरे (51), सिद्धेश लाड (98), आदित्य तारे (97) और शम्स मुलानी (65) ने रनों की पारी खेली.

मैच का बड़ा आकर्षण उत्तर प्रदेश की तरफ से उपेन्द्र यादव का शानदार दोहरा शतक रहा लेकिन बाद में सरफराज खान तिहरा शतक जड़कर सारी लाइमलाइट लूट ले गये. मुंबई के युवा बल्लेबाज सरफराज खान ने अपने दूसरे फर्स्ट क्लास शतक को पहले दोहरे शतक में बदला और फिर टीम की जरूरत को देखते हुए दोहरे शतक को तिहरे शतक में तब्दील कर कमाल कर दिया. उत्तर प्रदेश के खिलाफ सरफराज खान ने दमदार बल्लेबाजी की अपने फर्स्ट क्लास करियर का पहला तिहरा शतक जड़ा.

सरफराज खान ने 389 गेंदों में अपना तिहरा शतक पूरा किया, जिसमें 30 चौके और 8 छक्के शामिल थे. इस दौरान उनका स्ट्राइकरेट करीब 76 का रहा. सरफराज खान मुंबई की टीम की ओर से फर्स्ट क्लास क्रिकेट में तिहरा शतक ठोकने वाले 8वें बल्लेबाज बन गए हैं. वहीं मुंबई के लिए 2009 के बाद से किसी बल्लेबाज ने पहली बार 300 या इससे ज्यादा रन की पारी खेली है. उनसे पहले रोहित शर्मा ने 309 रन बनाए थे. सरफराज खान ने 294 रन से सीधा छक्का लगाया और अपने स्कोर को 300 में बदल दिया. अक्सर हम भारतीय टीम के पूर्व विस्फोटक ओपनर वीरेंद्र सहवाग को देखा जाता था कि वे 200 और 300 रन अक्सर छक्के के साथ पूरा करते थे.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share