राष्ट्र की शान पहलवान #YogeshwarDutt का #AMU पर बयान शर्मिन्दा कर देगा मजहबी उन्मादियों को

पहलवान योगेश्वर दत्त एक ऐसा नाम है जिसे किसी पहिचान या परिचय की आवश्यकता नहीं है. 2012 लन्दन ओलम्पिक के कांस्य पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त ने अपने जीवन में कई बार अपनी कुश्ती के दांव पेंच से राष्ट्र को गौरवान्वित किया है तथा देशवासियों को खुशी से झूमने पर मजबूर किया है. आज पहलवान योगेश्वर दत्त राष्ट्र ये युवाओं के नायक बन चुके हैं. हरियाणा के सोनीपत के रहने वाले पहलवान योगेश्वर दत्त आज सम्पूर्ण हिन्दुस्तान की शान हैं.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में लगी जिन्ना की तस्वीर को लेकर मचे बबाल के बीच पहलवान योगेश्वर दत्त ने ऐसा बयान दिया है जिसे जानकर हर राष्ट्रवादी की नजरों में उनका कद और बढ़ जायेगा तथा मजहबी उन्मादी शर्मिंदगी से भर उठेंगे. पहलवान योगेश्वर दत्त ने कहा है क‍ि जिन्ना जैसे लोगों के लिए लड़ना शर्मनाक है. उन्‍होंने कहा क‍ि एक आदमी जो देश के विभाजन के लिए जिम्मेदार था और अभी मरकर भी देश को विभाजित कर रहा है और फिर भी कुछ लोग उस जिन्ना के लिए लड़ रहे हैं.  इसके साथ ही योगेश्वर दत्त ने उन लोगों पर भी सवाल उठाए जो जिन्ना के लिए लड़ रहे हैं. पहलवान दत्त ने कहा कि‍ क्या पाकिस्तान में किसी ने भी भारतीय नेता के लिए कभी क‍िसी को संघर्ष करते देखा है? ऐसे में हम एक पाक नेता के लिए क्यों लड़ रहे हैं? जागो भारत जागो. निश्चित रूप से दत्त का ये बयान हर उस व्यक्ति को तीर की तरह चुभेगा जो भारत का बंटवारा करने वाले कट्टरपंथी जिन्ना के लिए अपने ही देश के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं.

Share This Post

Leave a Reply