Breaking News:

19 जून: बलिदान दिवस वीर बालिका “कालीबाई’ .. केवल 12 साल की उम्र में हंसिया ले कर वो लड़ गयी अंग्रेजो की बंदूकों से और फिर अमर हो गयी

उस मासूम ने भले ही अंग्रेजो का बिगड़ा था लेकिन भारत के चाटुकार इतिहासकारों और नकली कलमकारों का क्या बिगड़ा

Read more

15 जून- आज के ही दिन अमृतसर में गौ कत्लखाने पर धावा बोल कर पराक्रमी सरदारों ने मुक्त कराये थे सैकड़ों गौ वंश. इसी को बोला गया था “कूका विद्रोह” जिसमे तोपों से लड़ी थी भुजाएं

ये वो जंग थी जिसको तथाकथित इतिहासकारों और नकली कलमकारों ने लिखना तो दूर संज्ञान लेना भी उचित नहीं समझा

Read more

12 जून: बलिदान दिवस “बाबासाहब नरगुन्दकर” जो 1857 के स्वातंत्र्य समर में अत्याचारी “जेम्स मेंशन” की बलि चढा कर आज ही झूले थे फांसी पर

ये भी एक नाम है जिसने जंग लड़ी है राष्ट्र के शत्रुओ से और दिखाया था उन्हें मौत का आइना

Read more