एक ऐसा मामला जिसमें पाकिस्तान से भिड़ गया उसका साथी चीन.. खतरे में गद्दारी और आतंकवाद की दोस्ती

पाकिस्तान की बात की जाए तो वह चीन को अपना सबसे अच्छा दोस्त मानता है. ऐसा इसलिए है क्योंकि चीन

Read more

वो देश जिसने मस्जिदें तोड़कर बना डालीं वाहन पार्किंग और खेल के मैदान.. जबकि सेक्यूलर देशों में देवताओं के जन्मस्थान पर भी ठोंका जाता है दावा

क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि भारत या भारत जैसे किसी अन्य सेक्यूलर देश मेंमस्जिद तथा मदरसों को तोड़कर

Read more

“जो हथियार और ग्रेनेड हमने तुम्हारी फ़ौज को बेचे थे वो कश्मीर में आतंकियों के पास से कैसे मिल रहे” ?- चीन के इस सवाल का जवाब देना ही होगा पाकिस्तान को

ये वो सवाल है जो बहुत पहले भी उठाया जा सकता था लेकिन तब इस सवाल को उठाना तो दूर

Read more

राफ़ेल को देख सकने में सक्षम रडार माँगा था पाकिस्तान ने चीन से.. चीन का जवाब दुनिया को बता गया नये भारत का स्वरूप

जिस युद्धक विमान का भारत में आने से पहले सबसे ज्यादा विरोध विदेश में नहीं बल्कि देश मे ही हुआ

Read more

बुर्का पहिनने वाली महिलाओं के साथ ये सब कर रहा है चीन.. वो चीन जिसके खिलाफ कट्टरपंथ की सीमा समाप्त हो जाती है

भारत के पड़ोसी वामपंथी विचारधारा वाले चीन से अक्सर मुस्लिमों पर अत्याचार की ख़बरें सामने आती रहती हैं कि चीन

Read more

इस्लामिक आतंक के बाद अब ट्रंप ने लिया दुनिया के दूसरे सबसे बड़े खतरे का नाम.. एक देश की नहीं पूरी विचारधारा पर वार

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड शायद दुनिया के पहले ऐसे व्यक्ति हैं जो खुलकर इस बात का एलान करते हैं कि

Read more

जिस गद्दार वामपंथी चीन ने सबको दिया है धोखा, इस्लामिक मुल्क पाकिस्तान उसे मान रहा था वफादार.. अब दूर हुई गलतफहमी

वामपंथी मुल्क चीन की छबि एक ऐसे मुल्क की है जो हमेशा अपने साथियों को धोखा देता है. ऐसा इसलिए

Read more

लद्दाख सीमा पर भारतीय सैनिको और चीनी फौजियों के बीच फिर धक्का मुक्की.. चट्टान की तरह अड़ गये भारतीय जांबाज़

वो पाकिस्तान की विपत्ति काल में वो सब कुछ कर के दिखाना चाह रहा है जिसको देख कर पाकिस्तान खुश

Read more

पाकिस्तान को चित्त करने के बाद अब सेना ने चीन को दिया ऐसा जवाब कि चौंक गया अमेरिका भी.. हां, बदल गया है भारत

यही वो नया भारत है जिसकी बात भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बार बार करते हैं. वो नया भारत जो

Read more

चीन से 1962 का युद्ध लड़ने वाले सैनिकों की दिल्ली में ये दुर्दशा क्यों ? क्या दोष है उनके परिवारों का ?

भारतीय सेना के उन जांबाजों ने 1962 में चीन के खिलाफ अपनी जान हथेली पर रखकर लड़ाई लड़ी. बड़ी संख्या

Read more