Breaking News:

23 अक्टूबर: जन्मजयंती कित्तूर की रानी चेनम्मा, नारी शक्ति की वो प्रतीक जिनके बाहुबल से कांपी थी ब्रिटिश सेना

ये भारत की तथाकथित सेकुलर राजनीति भले ही कुछ करवाये अन्यथा वीर वीरांगनाओं ने अपना कर्तव्य निभा ही दिया था..

Read more

5 अक्टूबर: जन्मजयंती वीरांगना रानी दुर्गावती, जिन्होंने उस अत्याचारी तथा कामुक अकबर को तीन बार युद्ध में हराया, जिसे बताया जाता है महान

आज के ही दिन अवतरित हुई थी भारतीय नारियो की वो महाशक्ति जिसने अकबर जैसे क्रूर और दुराचारी के आगे

Read more

11 सितंबर: राष्ट्र संस्कृति पुनरुत्थान के शिल्पकार, हिंदुत्व की ज्वलंत प्रेरणा, सरसंघचालक परमपूज्य मोहन भागवत जी को जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

परम पूज्य मोहनराव भागवत का जन्म 1950 में वीर भूमि महाराष्ट्र के चंद्रपुर में हुआ था. उनके पिता श्री मधुकर

Read more

9 सितंबर: जन्मजयंती अमर बलिदानी कैप्टन विक्रम बत्रा , जिनकी गौरवगाथा आज भी गूंज रही है कारगिल की घाटियों में

जब जब भारत की स्वतंत्रता और गुलामी की जंजीरें तोड़ने की चर्चा होगी तब तब भगत , मगंल , बिस्मिल

Read more

13 अगस्त- जन्मजयंती हिंदुत्व के महानतम शूरवीर दुर्गादास राठौड़, जिन्होंने क्रूरतम मुगल आक्रान्ताओं का संहार अपनी अंतिम सांस तक किया ..

भारत की भूमि पर धर्म की रक्षा करने वाले, मातृभूमि के लिए अपना सर्वस्व न्योछाबर करने वाले अनेक योद्धाओं और

Read more

27 जून: जन्मजयंती राष्ट्रगीत “वन्देमातरम” के रचयिता बंकिमचन्द्र चटर्जी.. वो वन्देमातरम जिसे गाते हुए हमारे पूर्वजों ने दुष्टों के वध किये और दिया बलिदान

ये वो पावन धुन है जिसको गाते हुए आज़ादी की सशत्र क्रांति की गयी थी. इसी धुन में कई वो

Read more

26 जून: जन्मजयंती सेकेण्ड लेफ्टिनेंट रामा राघोबा राणे .. वो परमवीर जिन्होंने पाकिस्तान को उसके पहले ही दुस्साहस में चटा दी थी धूल

इन्होने कभी किसी भी प्रकार से अपने आप को भारत की अखंडता का ठेकेदार नहीं घोषित किया . इन्होने केवल

Read more

25 जून- जन्मजयंती पर सुदर्शन का नमन है कारगिल के महानायक और टाइगर हिल के टाइगर परमवीर कैप्टन मनोज पांडेय जी को

“मेरी विजय से पहले अगर मौत भी आती है तो यकीन मानो , मैं मौत को भी मार दूंगा ”

Read more

14 जून- जन्मजयंती जैन सन्त आचार्य महाप्रज्ञ जी… जाने उनके पावन जीवन के बारे में

सत्य , अहिंसा , न्याय का मसीहा अक्सर कुछ सोच समझ कर भारत में केवल कुछ व्यक्ति विशेष को ही

Read more

28 मई- जन्मजयंती स्वातंत्र्यवीर सावरकर. राष्ट्रप्रेम और धर्मरक्षा के वो महान प्रतीक जिनका स्वर्णिम इतिहास कभी मोहताज़ नहीं रहा चाटुकार इतिहासकारों और नकली कलमकारों का

अगर आज हम सीना ठोंक कर बोल रहे हैं कि महाराणा प्रताप महान थे और अकबर आतताई .. अगर आज

Read more

Loading...