4 वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म करने वाले शमशुल हक़ को फांसी की सजा माँगी थी देश ने.. अब न्यायालय ने सुनाया ये फैसला

शमशुल हक़ शिक्षक था जो बच्चों को पढ़ाता था. मोहल्ले के काफी बच्चे-बच्चियां उसके पास ट्यूशन पढ़ने भी जाते थे.

Read more

पढ़ाई में धर्म न देखने की आदत के चलते वो ट्यूशन पढ़ती थी मुस्लिम टीचर के यहां.. लेकिन वहां रहता था एक दरिंदा इस्लाम

मैडम जी…आपके पापा बहुत गंदे हैं… उन्होंने मेरे साथ गंदा काम किया है. अब मैं आपके घर ट्यूशन नहीं पढ़

Read more