11 अगस्त: “बहुत गरीब हूँ मैं, मेरे पास मेरी भारत माँ को देने के लिए कुछ नहीं था सिवा मेरे प्राणों के, जिसे आज मैं दे रहा” .. बलिदान दिवस अमर हुतात्मा “खुदीराम बोस” जिन्हें नेहरू ने कहा था “हत्यारा”

भारत के स्वाधीनता संग्राम का इतिहास महान वीरों और उनके सैकड़ों साहसिक कारनामों से भरा पड़ा है. ऐसे ही क्रांतिकारियों

Read more

9 अगस्त: क्रांतिवीरों द्वारा आज ही लूटी गई थी काकोरी स्टेशन पर वो ट्रेन जिसने जड़ें हिला दी थी ब्रिटिश सत्ता की, लेकिन नाराज़ हो गए थे भारत के ही कुछ तथाकथित अहिंसावादी

वो समय था ये जब आज़ादी के कुछ तथाकथित ठेकेदारों के कपड़े विदेश धुलने जाते थे , जबकि भारत के

Read more

6 अगस्त: जन्मजयंती क्रांतिवीर रामफल मंडल जो फांसी से पहले बोल कर गये थे कि – “हमारा दुश्मन सीमा पार नहीं बल्कि अंदर ही है”

वो नाम जिन्हे खुद तो लिया भी नहीं और किसी और को लेने भी नहीं दिया गया .. वो नाम

Read more

“जेलर – कोई अंतिम इच्छा ? उत्तर – अंतिम इच्छा उस हत्यारे को मारने की थी, वो पूरी हो गई”.. 31 जुलाई – बलिदान दिवस, वीर ऊधम सिंह

आज जिस बलिदानी का बलिदान दिवस है उस वीर के महानतम कार्य उस गाने को गाली के समान सिद्ध करते

Read more

23 जुलाई – जन्मदिवस पर नमन है लोकमान्य तिलक जी को जिन्होंने राष्ट्रनीति के साथ धर्म भी निभाया और गरम दल के द्वारा क्रांतिकारियों के बने प्रेरणास्रोत

‘स्वराज हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूँगा’ – बाल गंगाधर तिलक . बहुत पहले ही ये जान

Read more

20 जुलाई: पुण्यतिथि पर नमन है क्रांतिवीर बटुकेश्वर दत्त को जिन्हें उन्ही द्वारा स्वतंत्र कराये गए भारत में मिली एक गुमनाम मृत्यु

बिना खड्ग बिना ढाल के इतने शोर में वो बारूद के धमाके भी खो गए जो केवल और केवल हमारे

Read more

1 जुलाई: बलिदान दिवस बीरबल सिंह ढालिया.. कई लाठियां व 3 गोलियां लगने के बाद भी तब तक थामे रहे ध्वज जब तक थम नही गई सांसे

ये ऐसे महान योद्धा थे जिन्होंने कभी राष्ट्र की स्वतंत्रता के सपने सँजोये थे ..इतना तक उनकी तैयारी थी कि

Read more

19 जून: बलिदान दिवस वीर बालिका “कालीबाई’ .. केवल 12 साल की उम्र में हंसिया ले कर वो लड़ गयी अंग्रेजो की बंदूकों से और फिर अमर हो गयी

उस मासूम ने भले ही अंग्रेजो का बिगड़ा था लेकिन भारत के चाटुकार इतिहासकारों और नकली कलमकारों का क्या बिगड़ा

Read more

18 जून: पुण्यतिथि रणचंडी रानी लक्ष्मीबाई जी! उनकी गौरवगाथा को जानने वाला राष्ट्र अब जानना चाहता है उस गद्दार परिवार को जिसने दिया था रानी के विरुद्ध अंग्रेजों का साथ

नकली कलमकारों व चाटुकार इतिहासकारों द्वारा भले ही तमाम वीर व वीरांगनाओं के इतिहास को आम जनता ने जैसे तैसे

Read more

21 सितम्बर- बलिदान दिवस, क्रांतिवीर गेंदालाल. अंग्रेजो की नीव हिला देने वाले इस महायोद्धा का परिवार अंत में तड़प कर मर गया भूख से ये पाप उस समय हुआ जब कुछ के कपड़े विदेश जाते थे धुलने के लिए ..

प्रायः ऐसा कहा जाता है कि मुसीबत में अपनी छाया भी साथ छोड़ देती है। क्रांतिकारियों के साथ तो यह

Read more